Home » राजनीति » राष्ट्रीय दल » मणिशंकर अय्यर की माफी के साथ खत्म हुआ ‘नीच’ विवाद

मणिशंकर अय्यर की माफी के साथ खत्म हुआ ‘नीच’ विवाद

DEC 07 , 2017

अब यह नहीं पता कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, ‘क्षमा बड़न को चाहिए, छोटन को उत्पात’ मानते हुए कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर को माफ करेंगे या नहीं लेकिन मणिशंकर अय्यर ने नरेंद्र मोदी से ‘नीच इंसान’ बताने वाले बयान पर माफी मांग ली है।

मणिशंकर अय्यर ने दलील दी कि वह हिंदी भाषी नहीं हैं और अंग्रेजी में Low शब्द का अनुवाद गलत कर गए। मणिशंकर अय्यर का कहना है कि उन्हें नहीं पता था कि अंग्रेजी के शब्द Low Born का मतलब नीची जाति में जन्म लेने वाला होता है तो वह माफी चाहते हैं।

उन्होंने अपनी सफाई में कहा, ‘‘मैंने जब नीच कहा तो उसका मतलब Low Level था। मैंने अंग्रेजी में सोचा जिसकी वजह से गड़बड़ हुई। वैसे उन्हें अपनी गलती या अनुवाद की गलती का अहसास पार्टी की कमान संभालने जा रहे राहुल गांधी के कहने पर हुआ। राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा था कि वह मणिशंकर अय्यर के बयान से इत्तेफाक नहीं रखते और उन्हें नरेंद्र मोदी से माफी मांगनी चाहिए। अभी इस मुद्दे पर राजनीतिक घमासान कोई और रंग लेता या बीजेपी इसे अपने पक्ष में लाने के लिए कोशिश करती उससे पहले ही मणिशंकर अय्यर ने माफी मांग ली।

राहुल गांधी ने ट्वीट करके कहा, ‘बीजेपी और पीएम कांग्रेस पर हमला करने के लिए लगातार खराब भाषा का इस्तेमाल करते हैं। कांग्रेस की अलग संस्कृति और विरासत है। मैं मणिशंकर द्वारा मोदी के लिए इस्तेमाल भाषा और लहजे की निंदा करता हूं। कांग्रेस और मुझे दोनों को ही लगता है कि उन्हें अपने बयान के लिए माफी मांगनी चाहिए।


अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या
एपल स्टोर से

Copyright © 2016 by Outlook Hindi.