Advertisement
Home राजनीति राष्ट्रीय दल अजय माकन ने कहा- ‘हाथ से हाथ जोड़ो’ अभियान के दौरान कांग्रेस महंगाई, बेरोजगारी समेत अन्य मुद्दे उठाएगी

अजय माकन ने कहा- ‘हाथ से हाथ जोड़ो’ अभियान के दौरान कांग्रेस महंगाई, बेरोजगारी समेत अन्य मुद्दे उठाएगी

आउटलुक टीम - JAN 25 , 2023
अजय माकन ने कहा- ‘हाथ से हाथ जोड़ो’ अभियान के दौरान कांग्रेस महंगाई, बेरोजगारी समेत अन्य मुद्दे उठाएगी
अजय माकन ने कहा- ‘हाथ से हाथ जोड़ो’ अभियान के दौरान कांग्रेस महंगाई, बेरोजगारी समेत अन्य मुद्दे उठाएगी
आउटलुक टीम

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अजय माकन ने बुधवार को कहा कि उनकी पार्टी बेरोजगारी, महंगाई और देश में अमीर और गरीब के बीच ‘‘बढ़ती खाई’’ जैसे मौजूदा मुद्दों को उठाने के लिए देशभर में ‘‘हाथ से हाथ जोड़ो’’ अभियान चलाएगी।

मुंबई प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में प्रेसवार्ता के दौरान माकन ने कहा कि यह अभियान पार्टी नेता राहुल गांधी के नेतृत्व में जारी ‘‘भारत जोड़ो यात्रा’’ के 30 जनवरी को श्रीनगर में समापन के बाद शुरू किया जाएगा।

माकन ने कांग्रेस की मुंबई इकाई के प्रमुख भाई जगताप के साथ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार के खिलाफ ‘‘भारतीय जुमला पार्टी’’ शीर्षक के साथ एक ‘‘आरोपपत्र’’ भी पेश किया।

पिछले सप्ताह, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश ने घोषणा की थी कि पार्टी पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के संदेश को जनता के बीच पहुंचाने के लिए दो महीने तक ‘‘हाथ से हाथ जोड़ो’’ अभियान चलाएगी, जिसके तहत कार्यकर्ता घर-घर जाएंगे।

माकन ने कहा, ‘‘हाथ से हाथ जोड़ो अभियान के दौरान बेरोजगारी, महंगाई और देश में अमीर और गरीब के बीच ‘‘बढ़ती खाई’’ जैसे मौजूदा मुद्दों को उठाया जाएगा। हम इन मुद्दों को जनता के बीच लेकर जाएंगे। हमारे आरोपपत्र को हर घर तक पहुंचाया जाएगा और इसके साथ राहुल गांधी के जनता को संबोधित पत्र की प्रति भी सौंपी जाएगी।’’ उन्होंने कहा कि यह ‘‘आरोपपत्र’’ हिंदी, अंग्रेजी और मराठी भाषा में होंगे।

कांग्रेस महासचिव ने कहा कि निजी क्षेत्र में बेरोजगारी की दर बढ़ रही है जबकि सरकारी क्षेत्र में 62 लाख रिक्तियां हैं, जिनमें रेलवे में 2.66 लाख, बैंकों में दो लाख, स्वास्थ्य क्षेत्र और आंगनवाड़ी में 3.30 लाख पद शामिल हैं। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार के विभागों में 9.10 लाख जबकि सेना में 2.55 लाख रिक्तियां हैं।

माकन ने दावा किया कि वर्तमान में देश में 48 करोड़ लोग बेरोजगार हैं। माकन ने आरोप लगाया, ‘‘गरीब और अमीर के बीच की खाई बढ़ रही है। हमारे देश में गरीब और गरीब होता जा रहा है, जबकि अमीर और अमीर होता जा रहा है।’’ उन्होंने कहा कि देश के 100 शीर्ष कारोबारियों ने कोविड-19 महामारी के दौरान 13 लाख करोड़ रुपये कमाए।

कांग्रेस नेता ने कहा कि कांग्रेस के नेतृत्व वाली पूर्ववर्ती सरकार के शासन के दौरान वैश्विक भूख सूचकांक में भारत कुल 116 देशों में से 55वें स्थान पर था। लेकिन, यह अब 101वें पायदान पर खिसक गया है।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से

Advertisement
Advertisement