Home » राजनीति » राष्ट्रीय दल » पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के विरोध में कांग्रेस का 10 सितंबर को भारत बंद का ऐलान

पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के विरोध में कांग्रेस का 10 सितंबर को भारत बंद का ऐलान

SEP 06 , 2018

पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के खिलाफ कांग्रेस ने 10 सितम्बर को भारत बंद का ऐलान किया है। कांग्रेस की अगुवाई में अन्य विपक्षी दल भी इसमें शामिल होंगे। कांग्रेस अन्य दलों से बातचीत कर रही है। कांग्रेस का कहना है कि मोदी सरकार ने पिछले साढ़े चार साल में पेट्रोल डीजल पर टैक्स लगाकर करीब 11 लाख करोड़ रुपये जनता से लूटे हैं। यह पैसा किसकी जेब में गया आज तक इसका जवाब नहीं दे पाए। सरकार को जगाने के लिये और देश भर के लोगों के आक्रोश की भावना का सम्मान करते हुए भारत बंद का फैसला लिया गया है।

कांग्रेस के सीनियर नेता अशोक गहलोत, मोतीलाल वोरा, आनंद शर्मा और रणदीप सिंह सुरजेवाला ने एक प्रेस कांफ्रेस ने यह घोषणा करते हुए कहा कि ये बंद सुबह 9 बजे से दिन में 3 बजे तक जारी रहेगा, ताकि आम लोगों को किसी तरह की परेशानी का सामना न करना पड़े। जहां तक विपक्षी पार्टियों के समर्थन का सवाल है, ज्यादातर पार्टियों ने विरोध का समर्थन किया है। उन्होंने कहा कि 2014 में मोदी जी ने बड़ी-बड़ी बात की थी, रोजगार की बात की, अच्छे दिन आने की बात की लेकिन पूरे देश के जो हालात हैं उसके बारे में हम सभी जानते हैं कि आज देश कहां पहुंचा है। महंगाई की मार ने सबकी कमर तोड़ दी है। डीजल-पेट्रोल और गैस सिलेंडर ने जीना हराम कर दिया है।

चार साल में मोदी सरकार ने लूटा 

कांग्रेस नेताओं ने कहा कि ये सरकार की लापरवाही है कि तेल की कीमतें बढ़ती जा रही हैं, जबकि अंतर्राष्ट्रीय कीमतें कम हैं। मोदी सरकार ने पिछले साढ़े चार साल में पेट्रोल डीजल पर टैक्स लगाकर करीब 11 लाख करोड़ रुपये कमाया, वो 11 लाख करोड़ किसकी जेब में गया, मोदी जी आज तक इसका जवाब नहीं दे पाये। जब वित्त मंत्री अरुण जेटली जी से पूछा गया कि पेट्रोल डीजल की कीमतें कब कम करेंगे तो उन्होंने कहा कि हमारे पास कोई जादू की छड़ी नहीं है। आरटीआई से एक सनसनीखेज खुलासा हुआ है। 29 ऐसे देश हैं जहां मोदी सरकार 34 रुपया और 37 रुपया प्रति लीटर के हिसाब से तेल बेच रही है।

जीएसटी में नहीं लाए

कांग्रेस का कहना है कि जुलाई से लगातार कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी मोदी सरकार से कह रहे हैं कि पेट्रोल-डीजल को जीएसटी के अंदर ले आईए, लेकिन इसका मोदी सरकार ने कोई जवाब नहीं दिया। जब हमने सत्ता छोड़ी थी तब गैस सिलेंडर का दाम करीब 400 रुपये था, जो आज बढ़कर 800 रुपये के करीब पहुंच चुका है।


अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या
एपल स्टोर से

Copyright © 2016 by Outlook Hindi.