Home राजनीति राष्ट्रीय दल चीन ने हमारी जमीन पर कब्जा कर लिया, क्या ये भी ‘एक्ट ऑफ गॉड’ है: राहुल गांधी

चीन ने हमारी जमीन पर कब्जा कर लिया, क्या ये भी ‘एक्ट ऑफ गॉड’ है: राहुल गांधी

आउटलुक टीम - SEP 11 , 2020
चीन ने हमारी जमीन पर कब्जा कर लिया, क्या ये भी ‘एक्ट ऑफ गॉड’ है: राहुल गांधी
चीन ने हमारी जमीन पर कब्जा कर लिया, क्या ये भी ‘एक्ट ऑफ गॉड’ है: राहुल गांधी
आउटलुक टीम

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भारत और चीन के बीच जारी तनाव को लेकर एक फिर केंद्र की मोदी सरकार पर जोरदार हमला किया है। उन्होंने शुक्रवार को अपने ट्वीटर वॉल पर लिखा कि चीन ने हमारी धरती पर कब्जा कर लिया…कब भारत सरकार इसे मुक्त कराएगी…या फिर इसे भी सरकार एक्ट ऑफ गॉड बताकर छोड़ देगी।

बता दें राहुल गांधी और उनकी पार्टी हर मोर्चे पर मोदी सरकार को घेरने में लगी हुई है। इसी क्रम में पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष लगातार ट्वीट करके केंद्र सरकार पर हमला कर रहे हैं।

राहुल गांधी ने शुक्रवार सुबह अपने ट्वीट में लिखा, "चीन ने हमारी जमीन पर कब्जा कर लिया। भारत सरकार इसे वापस हासिल करने की योजना बना रही है? या फिर इसे भी एक "दैवीय घटना बताकर छोड़ा जा रहा है।" राहुल गांधी पहले भी कई बार चीनी घुसपैठ के मुद्दे पर केंद्र सरकार पर सवाल उठाते रहे हैं।

बता दें कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी चीन के अलावा कोरोना वायरस, रोजगार, निजीकरण, परीक्षाओं, जीडीपी में गिरावट, अर्थव्यवस्था और परीक्षाओं को लेकर लगातार सवाल उठा रहे हैं।

दोनों देशों के बीच बनी सहमति

भारत और चीन पूर्वी लद्दाख में सीमा पर लंबे समय से जारी गतिरोध समाप्त करने के लिए पांच सूत्रीय योजना पर सहमत हुए हैं, जिसमें सीमा के प्रबंधन से जुड़े सभी मौजूदा समझौतों एवं नियमों का पालन करना, शांति बनाए रखना और स्थिति को बिगाड़ सकने वाली हर कार्रवाई से बचना शामिल है। विदेश मंत्री एस. जयशंकर और उनके चीनी समकक्ष वांग यी के बीच मॉस्को में गुरुवार शाम हुई वार्ता में दोनों देश इस योजना पर सहमत हुए।

मॉस्को में विदेशमंत्री जयशंकर

बता दें कि जयशंकर और वांग शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) की बैठक में भाग लेने के लिए मॉस्को में हैं। पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर दोनों देशों की सेनाओं के बीच मई की शुरुआत से ही तनाव कायम है। विदेश मंत्रालय ने जयशंकर और वांग के बीच ‘‘स्पष्ट एवं रचनात्मक'' वार्ता के बाद शुक्रवार सुबह पांच-सूत्रीय संयुक्त बयान जारी किया।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से