Home » राजनीति » राष्ट्रीय दल » जीतते ही यूपी में भाजपा विधायक की दबंगई, पुलिस अफसर को धमकाया

जीतते ही यूपी में भाजपा विधायक की दबंगई, पुलिस अफसर को धमकाया

MAR 14 , 2017

पुलिस अधीक्षक चंद्र प्रकाश ने बताया कि सवायजपुर से गत 11 मार्च को विधायक चुने गये माधवेन्द्र सिंह और शाहाबाद के पुलिस क्षेत्राधिकारी :सीओ: अरविन्द वर्मा के बीच कथित बातचीत का एक ऑडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है। पूरे मामले का संज्ञान लिया गया है और अपर पुलिस अधीक्षक :पूर्वी: बीसी दुबे को मामले की जांच सौंपी गयी है।

सोशल मीडिया पर वायरल ऑडियो में विधायक कथित रूप से सीओ को भाजपा सरकार बनने का हवाला देते हुए मुकदमा दर्ज करवाने की धमकी देते सुने जा रहे हैं।

आरोपी विधायक माधवेन्द्र सिंह ने कहा कि सोमवार रात शाहाबाद क्षेत्र स्थित थमरिया गांव में सपा से जुड़े कुछ लोगों ने शशिलेष नामक उनके कार्यकर्ता के घर में घुसकर मारपीट की थी। पीडि़त ने जब 100 नम्बर पर फोन किया तो मौके पर पहुंची पुलिस ने वादी को उठा लिया और उसकी मां तथा पत्नी के साथ भी मारपीट की।

Advertisement

विधायक ने कहा कि जब उन्होंने शाहाबाद के पुलिस क्षेत्राधिकारी अरविन्द वर्मा को फोन किया तो उन्होंने कहा कि यह उनके स्तर का मामला नहीं है। 100 नम्बर हमारे तहत नहीं आता है। चूंकि सीओ ही क्षेत्र का बड़ा पुलिस अधिकारी होता है लिहाजा वह अपनी जिम्मेदारी से बच नहीं सकते।

पुलिस अधिकारी को धमकी देने के आरोप के बारे में पूछे जाने पर विधायक ने कहा कि उन्होंने अफसर से विनम्रता से बात की थी, मगर उन्होंने गैरजिम्मेदाराना तरीके से बात की।

उन्होंने आरोप लगाया कि पुलिस क्षेत्राधिकारी :सीओ: अरविन्द वर्मा सट्टा खिलवाने और नशीले पदार्थों की तस्करी जैसे गैर-कानूनी काम कराते हैं, लिहाजा उन्होंने उनसे इन सभी मामले की जांच करवाकर उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने की बात कही है।

पुलिस अधीक्षक चंद्र प्रकाश ने कहा कि सीओ अपने क्षेत्र का मामला होने के नाते 100 नम्बर का हवाला देकर अपनी जिम्मेदारी से इनकार नहीं कर सकते। भाषा


अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या
एपल स्टोर से

Copyright © 2016 by Outlook Hindi.