Home राजनीति राष्ट्रीय दल अजय कुमार लल्लू का सीएम योगी पर पलटवार, कहा- सत्ता के लिये कुछ भी कर सकती है भाजपा

अजय कुमार लल्लू का सीएम योगी पर पलटवार, कहा- सत्ता के लिये कुछ भी कर सकती है भाजपा

आउटलुक टीम - NOV 20 , 2020
अजय कुमार लल्लू का सीएम योगी पर पलटवार, कहा- सत्ता के लिये कुछ भी कर सकती है भाजपा
सत्ता के लिये कुछ भी कर सकती है भाजपा: अजय कुमार लल्लू
FILE PHOTO
आउटलुक टीम

कांग्रेस पर जम्मू कश्मीर में अलगाववादी तत्वों का साथ देने और धारा 370 पर अपनी स्थिति साफ करने के उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के बयान पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने पलटवार किया है। लल्लू ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता को कोई सवाल करने से पहले स्पष्ट करना चाहिये कि महबूबा मुफ्ती की पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) के साथ मिलकर सरकार बनाने के पीछे उसकी मंशा क्या थी।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष लल्लू ने शुक्रवार को कहा, “ योगी जी को कांग्रेस पर आरोप लगाने से पहले देश की जनता को बताना चाहिये कि भाजपा ने पीडीपी के साथ मिलकर जम्मू कश्मीर में सरकार क्यों बनायी थी। वास्तव में भाजपा की नीति है कि वह सरकार बनाने के लिये किसी भी हद तक जा सकती है। कांग्रेस के प्रवक्ताओं ने पहले से ही जम्मू कश्मीर के मामले में पार्टी की नीति स्पष्ट कर दी है।”

उन्होने कहा कि सीएम योगी बतायें कि उन्नाव,शाहजहांपुर,बुलंदशहर, हाथरस,बस्ती,बाराबंकी और कानपुर में महिलाओं के साथ लगातार बढती बलात्कार की घटनाओं को रोकने के लिये उनकी सरकार ने क्या उपाय किये हैं। बेटी बचाओ बेटी पढाओ का नारा देने वाली भाजपा सरकार के कार्यकाल में बेटियों के खिलाफ उत्पीड़न की घटनाये लगातार बढ़ रही हैं।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि भाजपा की पहचान पीआर (पब्लिक रिलेशन) पार्टी के तौर पर आम जनता के बीच बन चुकी है और 2022 के चुनाव में जनता उसको सत्ता में बाहर करने का मन बना चुकी है। कांग्रेस पर मनगढ़ंत आरोप लगाने वाली भाजपा के दिन पूरे हो चुके हैं।

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरूवार को एक संवाददाता सम्मेलन में कांग्रेस पर जम्मू कश्मीर के अलगाववादी नेताओ के समूह का समर्थन करने का आरोप लगाया था। उन्होने कहा कि गुपकार गैंग के बीच कश्मीर को अस्थिर करने संबंधी समझौते का कांग्रेस के कुछ वरिष्ठ और स्थानीय नेताओं समर्थन किया था। उन्होने आरोप लगाया था कि वरिष्ठ कांग्रेसी पी चिदंबरम और गुलाम नवी आजाद समेत कुछ अन्य नेता धारा 370 हटाये जाने का विरोध खुलेआम कर चुके है जो देश की संप्रभुता और अख्ंडता के लिये एक गंभीर खतरा है।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से