Home राजनीति जनादेश बंगाल को विद्यासागर की प्रतिमा के लिए भाजपा का पैसा नहीं चाहिएः ममता

बंगाल को विद्यासागर की प्रतिमा के लिए भाजपा का पैसा नहीं चाहिएः ममता

आउटलुक टीम - MAY 16 , 2019
बंगाल को विद्यासागर की प्रतिमा के लिए भाजपा का पैसा नहीं चाहिएः ममता
बंगाल को विद्यासागर की प्रतिमा के लिए भाजपा का पैसा नहीं चाहिएः ममता
आउटलुक टीम

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममती बनर्जी ने कहा है कि समाज सुधारक ईश्वर चंद्र विद्यासागर की प्रतिमा दोबारा बनाने के लिए बंगाल को भाजपा से पैसे की आवश्यकता नहीं है। राज्य के पास इसके लिए पर्याप्त संसाधन मौजूद हैं। भाजपा अध्यक्ष के अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो के दौरान हुई हिंसा और तोड़फोड़ के दौरान यह प्रतिमा टूट गई थी।

पीएम ने किया था प्रतिमा दोबारा बनवाने का वादा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तर प्रदेश में रैली के दौरान वादा किया था कि विद्यासागर की प्रतिमा उसी स्थान पर स्थापित की जाएगी, जहां मंगलवार को हिंसा के दौरान तोड़ी गई थी।

बनर्जी ने पश्चिम बंगाल के मंदिरबाजार क्षेत्र में एक चुनाव रैली के दौरान कहा कि मोदी ने कोलकाता में प्रतिमा दोबारा स्थापित करने का वादा किया है। हमें भाजपा से पैसा क्यों लेना चाहिए। बंगाल के पास पर्याप्त पैसा उपलब्ध है। उन्होंने भाजपा पर हमला करते हुए दावा किया कि मूर्तियों को तोड़ना उसकी आदत है। पार्टी ने त्रिपुरा में भी यही किया था।

भाजपा ने 200 साल पुरानी विरासत बर्बाद कर दी

उन्होंने चेतावनी दी कि भाजपा ने राज्य की 200 साल पुरानी विरासत को बर्बाद कर दिया है। इस पार्टी को समर्थन करने वालों को समाज स्वीकार नहीं करेगा। सोशल मीडियो के पोस्ट का हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि भाजपा फेसबुक और ट्विटर के जरिये झूठ अफवाहें फैला रही है। भाजपा लोगों को उकसाने के लिए सोशल मीडिया पर फर्जी वीडियो डाल रही है। इसके कारण दंगा हो गया।

भाजपा की मदद कर रहा चुनाव आयोग

चुनाव आयोग के नए आदेश का जिक्र करते हुए तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ने दक्षिण 24 परगना के मथूरपुर में कहा कि बुधवार की रात उन्हें ज्ञात हुआ कि भाजपा ने आयोग में शिकायत दर्ज कराई ताकि नरेंद्र मोदी की रैली के बाद हम कोई जनसभा न कर पाएं। आयोग ने प्रचार का वक्त एक दिन घटा दिया। पार्टियां गुरुवार शाम तक ही प्रचार कर सकेंगी। उन्होंने आरोप लगाया कि चुनाव आयोग भाजपा का सहयोगी बन गया है। पहले आयोग निष्पक्ष था। आज हर कोई कह रहा है कि चुनाव आयोग भाजपा के हाथों बिक गया है।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से