Home » राजनीति » जनादेश » PM मोदी ने कहा- बच्चों के हाथ में बंदूक थमा रहे अर्बन माओवादी, कांग्रेस को इनसे हमदर्दी

PM मोदी ने कहा- बच्चों के हाथ में बंदूक थमा रहे अर्बन माओवादी, कांग्रेस को इनसे हमदर्दी

NOV 09 , 2018

छत्तीगसढ़ में होने वाले आगामी विधानसभा चुनावों के लिए सभी दल प्रचार के लिए पूरी तरह जुट गए हैं। भारतीय जनता पार्टी की ओर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को जहां जगदलपुर में रैली को संबोधित किया। वहीं, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी कांकेर में रैली को संबोधित करते हुए मोदी सरकार पर हमला बोला। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण की शुरुआत छत्तीसगढ़ी भाषा में करते हुए विपक्ष पर जमकर हमला बोला।

पीएम मोदी ने कहा कि बस्तर में जब भी आया हूं विकास की नई योजना लेकर आया हूं। उन्होंने अपनी सरकार की उपलब्धियों को गिनाते हुए कहा कि अब भेदभाव नहीं किया जाता है। उन्होंने कहा कि अब सही व्यक्ति तक उसका हक पहुंच रहा है। सरकार हर वक्त जनता के साथ खड़ी है। पीएम ने कहा कि पहले की सरकार अपने और पराए में भेदभाव करती थी लेकिन अब ये भेदभाव खत्म हो गया है।

जिन बच्चों के हाथ में कलम होनी चाहिए उनके हाथों में बंदूक थमा रहे हैं अर्बन माओवादी

प्रधानमंत्री ने कहा कि पहले की सरकारें कहती थीं कि नक्सलियों की वजह से यहां का विकास नहीं हो रहा है लेकिन हमारी सरकार ने सभी मुश्किलों का सामना कर विकास किया। उन्होंने कहा कि जिन बच्चों के हाथ में कलम होनी चाहिए, राक्षसी मनोवृत्ति के लोग उनके हाथ में बन्दूक पकड़ा देते हैं। अर्बन माओवादी लोग खुद ऐश की जिन्दगी जीते हैं और आदिवासी बच्चों की जिन्दगी तबाह करते हैं और कांग्रेस के लोग ऐसे अर्बन माओवादी लोगों को बचाने के लिए मैदान में उतर आते हैं। कांग्रेस पार्टी अर्बन माओवादियों के पक्ष में खड़ी होती है, नक्सलवाद को मुद्दा बनाकर कांग्रेस वोटों की खेती कर रही है।

अटल जी के सपने को पूरा करने के लिए मैं बार-बार छत्तीसगढ़ आया

पीएम मोदी ने कहा कि अटल जी ने छत्तीसगढ़ के लिए जो सपने देखें थे उनको पूरा करने के लिए मैं बार-बार छत्तीसगढ़ आया हूं। जब तक मैं अटल जी के सपने पूरे नहीं कर देता तब तक चैन से बैठने वाला नहीं हूं।

प्रधानमंत्री मोदी ने आगे कहा कि दस साल से कांग्रेस केन्द्र में थी लेकिन कभी भी छत्तीसगढ़ के विकास की जरूरत को नहीं समझा और राज्य के विकास में बाधाएं खड़ी की। उन्होंने कभी राज्य के विकास के बारे में सोचा तक नहीं था।

नक्सलवाद पर पीएम ने साधा विपक्ष पर निशाना

पीएम मोदी ने नक्सलवाद पर विपक्ष को आड़े हाथों लिया। उन्होंने सवाल उठाया कि नक्सलियों के खिलाफ कार्रवाई का विरोध क्यों किया जा रहा है? पीएम मोदी ने कहा, ‘अब अर्बन नक्सली शहरों में रहते हैं। नक्सलवाद पर विपक्ष का रवैया दोतरफा है। अर्बन नक्सली को बचाने वाले नक्सलवाद पर बात करते हैं। शहरी नक्सली बड़े शहरों, बड़े घरों में रहते हैं’।

मेरे तेरे का खेल देश में नहीं चलेगा: मोदी

रैली को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा, ‘हमें विकास भी सबका करना है और साथ भी सबका चाहिए। अब मेरे तेरे का खेल देश में नहीं चलेगा। उन्होने कहा, मैं बस्तर के लोगों से यह अपील करता हूं कि वह एक तरफ जहां शहरी नक्सलियों को बचाने का प्रयास करते हैं तो वहीं छत्तीसगढ़ में राज्य को माओवाद मुक्त करने की बात बोलते हैं।

अब खत्म हो गएबिचौलिए

पीएम ने आगे कहा कि पहले की सरकारों में इतने काम नहीं हो पाते थे। लेकिन अब बिचौलियों के खत्म होने के चलते ज्यादा काम हो पा रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमने बिचौलियों को खत्म कर दिया है। इसके साथ ही, प्रधानमंत्री मोदी चुनाव से ठीक पहले केन्द्र और राज्य सरकार के काम लोगों के सामने गिनाए और विपक्ष पर निशाना साधा।

10 नवंबर चुनाव प्रचार की आखिरी तारीख

सोमवार को 18 सीटों पर होने वाले पहले चरण के चुनाव से पहले 10 नवंबर चुनाव प्रचार की आखिरी तारीख है। इस तरह से प्रधानमंत्री मध्‍य प्रदेश में 9 से 10, राजस्‍थान में 7 से 8, छत्‍तीसगढ़ के दूसरे चरण और तेलंगाना में 3 से 4 रैलियों को संबोधित कर सकते हैं।

लोकसभा चुनाव सेपहले पूरी ताकत झोंकने में लगी बीजेपी और कांग्रेस

गौरतलब है कि 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव से ठीक पहले 5 राज्‍यों- मध्‍य प्रदेश, छत्‍तीसगढ़, राजस्‍थान, तेलंगाना और मिजोरम में हो रहे विधानसभा चुनाव को सेमीफाइनल के रूप में देखा जा रहा है। इसको देखते हुए दोनों ही प्रमुख सियासी दलों बीजेपी और कांग्रेस ने पूरी ताकत झोंक दी है।


अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या
एपल स्टोर से

Copyright © 2016 by Outlook Hindi.