Home राजनीति सामान्य एनआरसी के खिलाफ ममता बनर्जी का विरोध मार्च, कहा- बंगाल में ऐसा नहीं कर पाओगे

एनआरसी के खिलाफ ममता बनर्जी का विरोध मार्च, कहा- बंगाल में ऐसा नहीं कर पाओगे

आउटलुक टीम - SEP 12 , 2019
एनआरसी के खिलाफ ममता बनर्जी का विरोध मार्च, कहा- बंगाल में ऐसा नहीं कर पाओगे
एनआरसी के खिलाफ ममता बनर्जी का विरोध मार्च, कहा- बंगाल में ऐसा नहीं कर पाओगे
ANI
आउटलुक टीम

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने एनआरसी के मुद्दे पर केंद्र सरकार को घेरा है। ममता बनर्जी ने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा, 'बंगाल में ऐसा नहीं कर पाओगे।' बनर्जी ने असम में जारी राष्ट्रीय नागरिक पंजीकरण (एनआरसी) के खिलाफ विरोध मार्च निकाला। पार्टी के वरिष्ठ नेताओं और सैकड़ों कार्यकर्ताओं के साथ ममता ने सड़क पर निकलकर विरोध मार्च का नेतृत्व किया। उन्होंने कहा कि जिस तरह असम में लोगों की आवाज बंद की गई है, ऐसा बंगाल में नहीं होगा।

लोगों की आवाज दबाई गई

ममता ने केंद्र की नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार पर निशाना साधते हुए कहा, 'आपने जिस तरह असम में अपनी पुलिस का इस्तेमाल कर लोगों की आवाज दबाई, वैसा यहां बंगाल में नहीं कर पाओगे। अचानक आप हमें (तृणमूल कांग्रेस) धर्म पर ज्ञान दे रहे हैं, जैसे हम ईद, दुर्गा पूजा, मुहर्रम और छठ पूजा मनाते ही ना हों।‘

‘19 लाख लोग लिस्ट से बाहर

असम की बहुचर्चित एनआरसी की फाइनल लिस्ट 31 अगस्त को जारी हुई थी। इस लिस्‍ट में 19 लाख लोग अपनी जगह नहीं बना पाए हैं। एनआरसी के राज्‍य समन्‍वयक प्रतीक हजारिका ने बताया कि कुल 3,11,21,004 लोग इस लिस्‍ट में जगह बनाने में सफल हुए हैं। उन्‍होंने कहा कि एनआरसी की फाइनल लिस्‍ट से 19,06,657 लोग बाहर हो गए हैं। दरअसल, जब मसौदा एनआरसी प्रकाशित हुआ था, तब 40.7 लाख लोगों को इससे बाहर रखा गया था, जिस पर काफी विवाद हुआ था।

हालांकि तमाम चर्चाओं के बीच विदेश मंत्रालय ने पिछले हफ्ते ही कहा था कि जिन लोगों के नाम अंतिम सूची में नहीं है उन्हें हिरासत में नहीं लिया जाएगा और उनके पास कानून के तहत उपलब्ध सभी उपायों के खत्म होने तक पहले की तरह सभी अधिकार रहेंगे।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से