Home राजनीति सामान्य महिला सुरक्षा पर योगी की मीटिंग, पुलिस की गश्त बढ़ाने और एंटी रोमियो स्क्वाड मजबूत करने पर जोर

महिला सुरक्षा पर योगी की मीटिंग, पुलिस की गश्त बढ़ाने और एंटी रोमियो स्क्वाड मजबूत करने पर जोर

आउटलुक टीम - JUN 10 , 2019
महिला सुरक्षा पर योगी की मीटिंग, पुलिस की गश्त बढ़ाने और एंटी रोमियो स्क्वाड मजबूत करने पर जोर
महिला सुरक्षा पर योगी की मीटिंग, पुलिस की गश्त बढ़ाने और एंटी रोमियो स्क्वाड मजबूत करने पर जोर
ANI
आउटलुक टीम

उत्तर प्रदेश में महिलाओं व नाबालिगों के साथ बढ़ते अपराध को लेकर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी उच्चस्तरीय बैठक की। इस बैठक में चीफ सेक्रेटरी, प्रमुख सचिव गृह, डीजीपी, एडीजी लॉ एंड ऑर्डर, एडीजी महिला सम्मान प्रकोष्ठ शामिल हुए। इस दौरान सीएम योगी अलीगढ़ हत्याकांड पर अधिकारियों से जवाब तलब किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि अपराधों को लेकर वो बेहद गंभीर है और इसकी रोकथाम के लिए कड़े प्रयास किए जाएं।

उत्तर प्रदेश के डीजीपी ने मीटिंग के बाद बताया, ‘कुशीनगर, हमीरपुर और अलीगढ़ के मामलों की मुख्यमंत्री ने समीक्षा की। अपराधियों को पहचानकर सख्त एक्शन लेने का निर्णय हुआ। पुलिस की पैदल गश्त बढ़ाई जाएगी और एंटी रोमियो स्क्वाड को ज्यादा सक्रिय किया जाएगा।‘

अलीगढ़ की घटना ने दहलाया

30 मई को अलीगढ़ के टप्पल में ढाई साल की मासूम बच्ची के साथ हुई हैवानियत ने पूरे देश को हिलाकर रख दिया है। वहीं ये मामला अभी पूरी तरह से ठंडा भी नही हुआ था कि शुक्रवार कुशीनगर में 13 साल की नाबालिक दलित लड़की को अगवा कर उसके साथ 6 लोगों ने सामूहिक बलात्कार किया। हालांकि इस मामले में पुलिस ने अब तक 4 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं दो की तलाश जारी है।

अन्य मुद्दों पर भी हुई समीक्षा

आज अधिकारियों के साथ की गई बैठक में मुख्यमंत्री ने सूबे के सभी मंडलायुक्तों और नगर आयुक्तों के साथ शहरों की सफाई, पॉलीथिन पर रोक, नगरीय क्षेत्र में गोवंश संरक्षण, स्मार्ट सिटी मिशन, अमृत मिशन, शहरों में नालों को टैप किए जाने की प्रगति, एसटीपी के निर्माण की प्रगति और नमामि गंगे परियोजनाओं की समीक्षा की।

मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया 11 जून से 15 जून तक प्रमुख सचिव, अपर मुख्य सचिव और मंत्री स्तर पर समीक्षा की जाएगी। जानकारों की माने तो इस इन तमाम बिंदुओं पर समीक्षा किए जाने के बाद 16 जून से 15 जुलाई तक मुख्यमंत्री मंडलीय समीक्षा बैठकें करेंगे।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से