Home राजनीति सामान्य गोवा में कांग्रेस से भाजपा में गए तीन विधायक मंत्री बनेंगे, डिप्टी स्पीकर को भी कैबिनेट में जगह

गोवा में कांग्रेस से भाजपा में गए तीन विधायक मंत्री बनेंगे, डिप्टी स्पीकर को भी कैबिनेट में जगह

आउटलुक टीम - JUL 12 , 2019
गोवा में कांग्रेस से भाजपा में गए तीन विधायक मंत्री बनेंगे, डिप्टी स्पीकर को भी कैबिनेट में जगह
गोवा में कांग्रेस से भाजपा में गए तीन विधायक मंत्री बनेंगे, डिप्टी स्पीकर को भी कैबिनेट में जगह
आउटलुक टीम

कुछ दिनों पहले भाजपा में शामिल होने वाले कांग्रेस के तीन विधायकों समेत गोवा के चार विधायक राज्य कैबिनेट में मंत्री बनाए जाएंगे। यह जानकारी सूत्रों ने दी है।

दस विधायकों ने बदला था पाला

विपक्ष के नेता चंद्रकांत कावलेकर की अगुआई में कांग्रेस के 15 में से 10 विधायकों ने बुधवार को भाजपा का दामन थाम लिया था। मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत के साथ इन विधायकों ने भाजपा के अध्यक्ष अमित शाह और कार्यकारी अध्यक्ष जे. पी. नड्डा से गुरुवार को नई दिल्ली में मुलाकात की थी। इसके बाद सभी विधायक शुक्रवार को गोवा वापस लौट आए। हालांकि सावंत गोवा में माइनिंग के मसले पर एक उच्च स्तरीय बैठक में हिस्सा लेने के लिए दिल्ली में ही रुक गए। फरवरी 2018 में सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद गोवा में माइनिंग नहीं हो पा रही है। यह बैठक शुक्रवार की शाम को नई दिल्ली में होगी। इस बैठक में केंद्रीय गृह मंत्री होने के नाते अमित शाह और खनन मंत्री प्रहलाद पटेल भी हिस्सा लेंगे।

मंत्री बनने वालों के नाम का खुलासा नहीं

भाजपा के शीर्ष सूत्रों ने बताया कि कांग्रेस में रहे 10 में से तीन विधायकों को मंत्री बनाया जाएगा। इसके अलावा राज्य विधानसभा के डिप्टी स्पीकर माइकेल लोबो भी शनिवार को मंत्री के रूप में शपथ लेंगे। हालांकि सूत्रों ने उन विधायकों के नाम बताने से इन्कार कर दिया, जिन्हें मंत्री पद दिया जाएगा।

कुछ मौजूदा मंत्रियों की कार्यशैली से मुख्यमंत्री नाखुश

संपर्क किए जाने पर विधायक लोबो ने पुष्टि की कि कांग्रेस में रहे तीन विधायकों को भी सावंत के मंत्रिमंडल में शामिल किया जाएगा। लोबो ने कहा कि मुख्यंत्री कुछ मंत्रियों के नाखुश है क्योंकि वे लोगों को हल्के में ले रहे हैं। इस वजह से राज्य कैबिनेट का पुनर्गठन किया जा सकता है। मुख्यमंत्री सही कदम उठाएंगे।

चार मंत्रियों की हो सकती है छुट्टी

इन विधायकों को कैबिनेट में स्थान देने के लिए चार मौजूदा मंत्रियों को हटाया जाएगा। हटाए जाने वाले अधिकांश विधायक भाजपा के सहयोगी दलों के होंगे। सावंत ने गुरुवार को बताया कि सहयोगियों के बारे में फैसला उनके गोवा वापस लौटने के लिए लिया जाएगा। हालांकि सूत्रों का कहना है कि गोवा फॉरवर्ड पार्टी (जीएफपी) के सभी तीन मंत्रियों को हटाया जा सकता है। इनमें जीएफपी के अध्यक्ष और राज्य के उप मुख्यमंत्री विजय सरदेसाई, विनोद पालेकर और जयेश सालगोनकर शामिल हैं।इसके अलावा एक निर्दलीय विधायक और राजस्व मंत्री हरोहन खुंटे को हटाया जा सकता है।

विधानसभा में भाजपा को अब भारी बहुमत

सूत्रों के अनुसार कांग्रेस में रहे दस विधायकों को भाजपा के पाले में लाने में लोबो की मुख्य भूमिका रही है। इस दल बदल के बाद 40 सदस्यों की विधानसभा में भाजपा को भारी बहुमत मिल गया है।

क्षेत्र के विकास के लिए भाजपा में आएः कावलेकर

फरवरी 2017 में विधानसभा चुनाव के बाद गोवा में सरकार बनने के समय से क्षेत्रीय पार्टी जीएफटी भाजपा के साथ है। इस बीच, नई दिल्ली से वापस लौटे कावलेकर ने गोवा हवाई अड्डे पर संवाददाताओं को बताया कि पिछले कई वर्षों से उनके विधानसभा क्षेत्र में विकास न होने के कारण उन्होंने भाजपा का दामन थामा है। उन्होंने कहा कि लंबे समय से विपक्ष में रहने के कारण उनके क्षेत्र में विकास प्रभावित हो रहा है। भाजपा विकास पर खास ध्यान देने वाली पार्टी है, इसलिए उन्होंने इसमें शामिल होने का फैसला किया। सत्ता में आने में उनके क्षेत्र के लोगों को फायदा मिलेगा।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से