Home राजनीति सामान्य पीएम मोदी का ममता बनर्जी पर निशाना, कहा- दीदी और इनके नेताओं का अहंकार बढ़ गया है

पीएम मोदी का ममता बनर्जी पर निशाना, कहा- दीदी और इनके नेताओं का अहंकार बढ़ गया है

आउटलुक टीम - MAY 16 , 2019
पीएम मोदी का ममता बनर्जी पर निशाना, कहा- दीदी और इनके नेताओं का अहंकार बढ़ गया है
पीएम मोदी का ममता बनर्जी पर निशाना, कहा- दीदी और इनके नेताओं का अहंकार बढ़ गया है
ANI
आउटलुक टीम

पश्चिम बंगाल में जारी सियासी घमासान के बीच पीएम नरेंद्र मोदी ने गुरुवार शाम बंगाल के दमदम में रैली की। इस रैली के दौरान पीएम ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और तृणमूल कांग्रेस पर निशाना साधा। ममता बनर्जी को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि दीदी यह सुन लें कि पश्चिम बंगाल आपके और आपके भतीजे के घर की जागीर नहीं है। पीएम ने भाषण में यह भी कहा कि 23 मई को केंद्र में बीजेपी की सरकार बनने के बाद बंगाल में घुसपैठ करके आने वालों का हिसाब होगा और दोषियों पर कार्रवाई होगी।

दीदी और इनके नेताओं का अहंकार बढ़ गया है

पीएम मोदी ने कहा, 'दीदी को लगता था कि वह सुप्रीम पावर हैं लेकिन बंगाल के लोगों ने बताया कि सुप्रीम सिर्फ जनता है। बांग्ला मानुष की रग-रग में डेमॉक्रेसी है और इस बार आपका मुकाबला बीजेपी से नहीं 21वीं सदी के बंगाली युवाओं से हो रहा है। मोदी को गाली देने से आपको कुछ हासिल नहीं होगा।'

पीएम ने कहा, 'दीदी और टीएमसी के नेताओं का अहंकार इतना बढ़ गया है कि उन्होंने देश की रक्षा में जुटे सपूतों को भी नहीं छोड़ा। इनके नेता सरेआम धमकी देते हैं कि सुरक्षाकर्मियों को भगाओ और उनको मारो, यह तरीका कश्मीर में पत्थरबाज अपनाते हैं। इस महान लोकतंत्र में सबको सपने देखने की आजादी है। आपको भी पीएम पद का सपना देखने की आजादी है, लेकिन हमारी सेना को गाली देने से और उनके खिलाफ गुंडो का उपयोग करने से आपकी अपनी विश्वसनीयता पर सवाल उठ चुके हैं।'

दीदी को सीमा लांघकर आने वालों से समस्या नहीं

पीएम ने कहा, 'यह देश सबकुछ स्वीकार कर सकता है, लेकिन किसी का भी अहंकार सहन नहीं करेगा। दीदी को यह याद दिलाना जरूरी है कि बिहार, पंजाब, यूपी, ओडिशा से यहां कोई आया है तो वह अपनी आजीविका कमाने के साथ बंगाल के विकास में भी मदद करता है। दीदी को यूपी, बिहार और ओडिशा के लोगों को समस्या है, लेकिन जो सीमा को लांघकर चोरी-छिपे यहां आते हैं उनसे आपको कोई समस्या नहीं है।'  मोदी ने कहा, 'जिन लोगों ने पश्चिम बंगाल की समाज व्यवस्था को तहस नहस कर दिया, उनके लिए आपके मन में प्यार उमड़ रहा है, लेकिन अपने देश के लोगों को आप गालियां देती हैं। आपकी भाषा से बंगाल के सामान्य आदमी को बहुत दुख हुआ है और इसका जवाब वह 19 मई को ईवीएम का बटन दबाकर देने वाला है। दीदी कान खोल कर लें, पश्चिम बंगाल आपकी और आपके भतीजे की जागीर नहीं है। ये मां भारती का एक अटूट अंश है।'

'राम के भक्त डर कर जीने को हैं मजबूर'

राज्य सरकार द्वारा हाल में हुई कार्रवाई का जिक्र करते हुए मोदी ने कहा, 'गंगोत्री से लेकर गंगा सागर तक मां गंगा ने किसी से भेद नहीं किया तो आप कौन होती हैं लोगों में भेद करने वाली। आप अपनी आंखों से वोट बैंक की पट्टी खोलेंगी तो आपको एक भारत और श्रेष्ठ भारत के दर्शन होंगे। बंगाल रामकृष्ण परमहंस, मां काली और भगवान राम को पूजने वाली धरती है। दुष्टों का संहार करने की सीख यहां के कण-कण में समाहित है। यहां जो दुष्ट, घुसपैठिए और तस्कर मौज में हैं और काली एवं भगवान राम के भक्त डर कर जीने को मजबूर हैं। जय मां काली और जय श्री राम कहने पर लोगों को जेल में भेजा जा रहा है और मजाक करने भर से बेटियों को जेल में डाला जा रहा है, यह अब और नहीं चलेगा।'

सरकार बनने के बाद घुसपैठियों पर कार्रवाई का वादा

नरेंद्र मोदी ने आगे कहा, '23 मई को जब मोदी सरकार बनेगी तो इन घुसपैठियों का हिसाब होगा। बंगाल का माहौल खराब करने वालों को पहचाना जाएगा और कानूनी कार्रवाई की जाएगी। सबका साथ-सबका विकास हमारा लक्ष्य और सबको सुरक्षा हमारा प्रण है। नए हिंदुस्तान के निर्माण के संकल्प के साथ हम काम कर रहे हैं। आजादी के 75 साल होने तक हम 75 संकल्पों को पूरा करने के लिए निकले हैं। 2022 में जब 75 साल पूरे होंगे तब तक इन संकल्पों को पूरा करने का प्रयास होगा। हर किसी को घर, शौचालय, बिजली और गैस कनेक्शन मिले। हर गांव तक सड़क और तेज इंटरनेट पहुंचे और सबसे बड़ी और अहम बात कि भारत का दुनिया में सम्मान बुलंदी पर पहुंचे इन सब के लिए हम जी जान से जुटने वाले हैं। इस मिशन में पश्चिम बंगाल की बहुत बड़ी भूमिका रहने वाली है। इसके लिए आपको कमल के निशान पर वोट देना है और आपका वोट नरेंद्र मोदी को जाएगा।'

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से