Home राजनीति सामान्य बसपा में शामिल हुए जेडीएस के महासचिव दानिश अली

बसपा में शामिल हुए जेडीएस के महासचिव दानिश अली

आउटलुक टीम - MAR 16 , 2019
बसपा में शामिल हुए जेडीएस के महासचिव दानिश अली
बसपा में शामिल हुए जेडीएस के महासचिव दानिश अली
ANI
आउटलुक टीम

जनता दल (एस) के महासचिव दानिश अली बहुजन समाज पार्टी (बसपा) में शामिल हो गए हैं। उन्हें पार्टी महासचिव सतीश चंद्र मिश्र ने जॉइन कराया। दानिश अली हाल ही में कांग्रेस और जनता दल (एस) के साथ गठबंधन वार्ता में शामिल थे। उन्होंने कहा कि जेडीएस का यूपी में संगठन नहीं है। अपने सभी प्रयासों के बावजूद मैं इसे अपनी जन्मभूमि, अपनी कर्मभूमि में नहीं बढ़ा पाया। आज संविधान पर खतरा मंडरा रहा है, ऐसे में हमें मजबूत नेतृत्व की जरूरत है।

बसपा में शामिल होने के बाद दानिश अली ने कहा- जेडीएस में रहते हुए भी मैंने कभी कुछ नहीं मांगा, जो एचडी देवगौड़ा ने काम सौंपा, मैंने वह किया। मैं देवेगौड़ा जी का आशीर्वाद और अनुमति लेने के बाद यहां आया हूं। बहनजी मुझे जो काम देंगी, वह काम मैं करूंगा।

दूसरी पार्टियों में भी जारी दल-बदल का दौर

वहीं, यूपी में ही भाजपा सांसद श्यामाचरण गुप्ता समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए हैं। वह बांदा लोकसभा सीट से चुनाव लड़ेंगे।

इसी क्रम में उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा सांसद भुवन चंद्र खंडूरी के बेटे मनीष खंडूरी ने शनिवार को कांग्रेस का दामन थाम लिया है। उत्तराखंड के परेड ग्राउंड में कांग्रेस के चुनावी मंच पर पार्टी अध्‍यक्ष राहुल गांधी की मौजूदगी में मनीष कांग्रेस में शामिल हो गए। मनीष खंडूड़ी के कांग्रेस में शामिल होने को भाजपा के लिए झटके के तौर पर देखा जा रहा है।

खबरों की मानें तो कांग्रेस मनीष खंडूड़ी को पौड़ी सीट से उम्मीदवार बना सकती है। बता दें कि बीसी खंडूरी वर्तमान में पौड़ी से भाजपा के सांसद हैं। इस संबंध में जब कुछ दिन पहले उत्तराखंड भाजपा अध्यक्ष अजय भट्ट से सवाल किया गया था तो उन्होंने कहा था कि मनीष खंडूरी पार्टी के सदस्य नहीं हैं और इसलिए इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि वह कहां जाते हैं।

भाजपा को 24 घंटे के अंदर लगा तीसरा झटका

भाजपा को 24 घंटे के अंदर तीन बड़े झटके लगे हैं। असम के तेजपुर से सांसद रामप्रसाद शर्मा ने भी पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। इससे पहले बीजेपी के राजस्थान के दिग्गज नेता देवी सिंह भाटी ने शुक्रवार को पार्टी से इस्तीफा दे दिया। उन्होंने बीकानेर से मौजूदा सांसद और केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल को टिकट नहीं देने की मांग को लेकर इस्तीफा दिया है।

दूसरी ओर गुजरात बीजेपी की महिला नेता रेशमा पटेल ने शुक्रवार को पार्टी से इस्तीफा दे दिया। उन्होंने कहा कि वे बीजेपी से अलग होने के बाद भी क्षेत्र की जनता के लिए अंतिम समय तक काम करते रहेंगे।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से