Home » राजनीति » सामान्य » राहुल गांधी की टिप्पणी से नाराज महिलाअों ने ऐसे किया विरोध-प्रदर्शन

राहुल गांधी की टिप्पणी से नाराज महिलाअों ने ऐसे किया विरोध-प्रदर्शन

OCT 11 , 2017

कांग्रेस उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी गुजरात यात्रा के दौरान संघ में महिलाओं पर टिप्पणी करने को लेकर विवादों में हैं। राहुल ने मंगलवार को अपने विवादित बयान में कहा था कि क्‍या कभी आरएसएस शाखा में महिलाओं को शॉर्ट्स में देखा है? उनके इस तरह के बयान पर बुधवार को गुजरात के राजकोट में भाजपा महिला कार्यकर्ताओं ने राहुल गांधी के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन किया।

न्यूज़ एजेंसी एएनआइ के मुताबिक, राहुल गांधी के इस तरह के बयान पर बुधवार को गुजरात के राजकोट में भाजपा महिला कार्यकर्ताओं ने उनके खिलाफ विरोध-प्रदर्शन किया। इस दौरान विरोध करने वाली महिलाओं के हाथों में राहुल गांधी का एक पुतला था, जिसको साड़ी पहनाई गई थी।

राहुल मांगें माफी

Advertisement

इससे पहले संघ पर राहुल गांधी की टिप्पणी के जवाब में गुजरात की पूर्व मुख्यमंत्री आनंदीबेन ने मंगलवार को कहा कि कांग्रेस का स्वभाव ही ऐसा है। राहुल महिलाओं के कपड़ों पर ही नजर रखते हैं। आनंदीबेन ने राहुल से अपने शब्द वापस लेकर गुजरात की महिलाओं से माफी मांगने को भी कहा।

उन्होंने कहा कि गुजरात कि महिलाएं संस्कारी व लघु उद्यम करने वाली हैं, स्वाभिमान से जीती हैं। राहुल ने ऐसी टिप्पणी कर उनका अपमान किया है। राहुल माफी नहीं मांगेंगे तो महिलाएं एकजुट होंगी और कांग्रेस बची-खुची सीटें भी खो देगी। 

राहुल गांधी ने दिया था ये बयान

बता दें कि तीन दिवसीय मध्य गुजरात के दौरे पर गए राहुल गांधी मंगलवार को वडोदरा के महाराजा सयाजीराव विश्वविद्यालय में विद्यार्थियों से संवाद कर रहे थे। एक छात्रा के सवाल पर उन्‍होंने वाराणसी में काशी हिंदू विश्वविद्यालय (बीएचयू) की घटना का उल्लेख करते हुए कहा कि संघ और भाजपा की सोच ही ऐसी है कि महिला चुप रहे तब तक ठीक है, बोले तो चुप करा दो।

वहीं, इस दौरान ही राहुल गांधी ने पूछा, आपने कभी संघ की शाखा में महिलाओं को शॉर्ट्स में देखा है, मैंने तो नहीं देखा। इतना ही नहीं, राहुल ने आगे कहा कि  संघ की नजर में महिलाओं के लिए कोई जगह नहीं है। संघ में एक भी महिला सदस्य नहीं हैं।  


अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या
एपल स्टोर से

Copyright © 2016 by Outlook Hindi.