Home राजनीति सामान्य 'नाली और शौचालय' वाले बयान पर घिरीं प्रज्ञा ठाकुर, जेपी नड्डा ने किया तलब

'नाली और शौचालय' वाले बयान पर घिरीं प्रज्ञा ठाकुर, जेपी नड्डा ने किया तलब

आउटलुक टीम - JUL 22 , 2019
'नाली और शौचालय' वाले बयान पर घिरीं प्रज्ञा ठाकुर, जेपी नड्डा ने किया तलब
'नाली और शौचालय' वाले बयान पर घिरीं प्रज्ञा ठाकुर, जेपी नड्डा ने किया तलब
File Photo
आउटलुक टीम

मध्य प्रदेश के भोपाल से भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की सांसद प्रज्ञा ठाकुर को पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा और संगठन महामंत्री बीएल संतोष ने तलब किया है। जेपी नड्डा और बीएल संतोष के तलब करने के बाद साध्वी प्रज्ञा बीजेपी हेडक्वार्टर पहुंची।

प्रज्ञा ठाकुर को उस बयान पर तलब किया है, जिसमें उन्होंने कहा था, 'हम नाली साफ करवाने के लिए नहीं बने हैै। हम आपका शौचालय साफ करने के लिए बिल्कुल नहीं बनाए गए हैं। हम जिस काम के लिए बनाए गए हैं, वो काम हम इमानदारी से कर रहे हैं।'

'आप' ने साधा निशाना

बीजेपी सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर के बयान पर आम आदमी पार्टी (आप) के सांसद संजय सिंह ने तंज कसते हुए ट्विटर किया, 'मैं प्रज्ञा ठाकुर के बयान से सहमत हूं, वो नाली और शौचालय साफ करने के लिए नहीं बनी, जो करने के लिए बनी हैं, वो किया, जो किया उसकी सजा नहीं उपहार उसको मिला।'

विवादों से पुराना नाता

मालेगांव ब्लास्ट की आरोपी प्रज्ञा ठाकुर पूरे लोकसभा चुनाव अभियान के दौरान अपने विवादित बोल के चलते चर्चा में रहीं। इस दौरान उन्होंने राम मंदिर से लेकर, 26/11 हमले में शहीद हुए पुलिस अधिकारी हेमंत करकरे और नाथूराम गोडसे तक पर विवादित बयान दिए। चुनाव के दौरान गोडसे को लेकर दिए गए बयान के चलते पीएम मोदी ने कहा था कि मैं उन्हें (प्रज्ञा ठाकुर) कभी मन से माफ नहीं कर पाऊंगा।

यही नहीं जब उन्होंने लोकसभा में सासंद के तौर शपथ लिया तो भी काफी विवाद हुआ था। शपथ लेते वक्त साध्वी प्रज्ञा ने संस्कृत में शपथ लेते वक्त अपने गुरू का नाम लिया। इसी बीच विपक्ष के कुछ सांसदों ने हंगामा शुरु कर दिया था। दो बार खलल के बाद, प्रज्ञा ठाकुर ने तीसरे प्रयास में अपना शपथ पूरा किया था।

दिग्विजय सिंह को हराया

लोकसभा चुनाव में साध्वी प्रज्ञा ने भोपाल संसदीय क्षेत्र से कांग्रेस के दिग्गज नेता और दो बार के मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे दिग्विजय सिंह को हराया था। साध्वी प्रज्ञा 2008 में हुए मालेगांव ब्लास्ट में आरोपी हैं, जिसमें छह लोगों की मौत हो गई थी।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से