Home राजनीति भाजपा को हरियाणा में सरकार गिरने का डर, कल अमित शाह से मुलाकात के बाद आज मोदी से मिले दुष्यंत

भाजपा को हरियाणा में सरकार गिरने का डर, कल अमित शाह से मुलाकात के बाद आज मोदी से मिले दुष्यंत

आउटलुक टीम - JAN 13 , 2021
भाजपा को हरियाणा में सरकार गिरने का डर, कल अमित शाह से मुलाकात के बाद आज मोदी से मिले दुष्यंत
दुष्यंत चौटाला
आउटलुक टीम

किसान आंदोलन के पक्ष में तीन निर्दलीय विधायकों का भाजपा-जजपा गठबंधन सरकार से समर्थन वापस लिए जाने के बाद से हरियाणा की भाजपा-जजपा गठबधंन सरकार पर खतरे के बादल मंडरा रहे हैं। किसान समर्थकों के दम पर 10 सीटें जीतने वाली जजपा के विधायकों पर किसानों और खाप पंचायतों का हरियाणा की मनोहर लाल खट्टर सरकार गिराने का दबाव दिनों दिन बढ़ता जा रहा है। इसलिए पिछले एक महीने में जजपा नेता एंव हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला दो बार गृह मंत्री अमित शाह से मिलकर आश्वस्त करा चुके हैं कि गठबंधन सरकार को कोई खतरा नहीं है। कल देर रात अमित शाह के साथ बैठक के बाद खट्टर और चौटाला ने कहा था कि भाजपा-जजपा गठबंधन सरकार को कोई खतरा नहीं है और यह सरकार पांच साल का अपना कार्यकाल पूरा करेगी। उन्होंने कहा था कि उन्होंने बैठक में राज्य में मौजूदा कानून-व्यवस्था की स्थिति के बारे में बातचीत की।

  12 जनवरी की रात मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के साथ गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात के बाद आज बुधवार को दुष्यंत चौटाला प्रधानमंत्री नरेेंद्र मोदी से मुलाकात की। हरियाणा में भाजपा नीत सरकार में गठबंधन साझेदार जननायक जनता पार्टी (जजपा) के नेता हैं। ऐसा माना जा रहा है कि जजपा के कुछ विधायक प्रदर्शनकारी किसानों के दबाव में हैं। जजपा ने एक बयान में कहा था कि चौटाला बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात करेंगे। जजपा के 4 असंतुष्ट विधायकों में पुंडरी से कलायत से ईश्वर सिंह,नारनाेंद से रामकुमार गौतम,शाहबाद से रामकरण काला और टोहाल से दवेंद्र बबली खुलकर किसानों के समर्थन में भाजपा से गठबंधन तौड़ने की इच्छा जता चुके हैं। जजपा के भीतर चलते इस अंसतोष को भांपते हुए मुख्यमंत्री मनोहर लाख खट्टर उन 4 निर्दलीय विधायकों का समर्थन पक्का करने के लिए उन्हें साधने पर लगे हैं। 11 जनवरी को इन चार निर्दलीय विधायकों की अगुवाई करते हुए बिजली मंत्री रणजीत सिंह चोटाला ने अपने आवास पर दिए दोपहर भौज में मुख्यमंत्री को भी आमंत्रित किया। दोपहर भौज पर सीएम और इन निर्दलीय विधायकों की करीब दो घंटे राज्य के िसयासी हालात और किसान आंदोलन से निपटने को लेकर चर्चा हुई।  

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से