Home राजनीति ओवैसी के मिशन बंगाल को झटका, ये रणनीति ममता को पहुंचाएगी फायदा?

ओवैसी के मिशन बंगाल को झटका, ये रणनीति ममता को पहुंचाएगी फायदा?

आउटलुक टीम - APR 08 , 2021
ओवैसी के मिशन बंगाल को झटका, ये रणनीति ममता को पहुंचाएगी फायदा?
ओवैसी, ममता
आउटलुक टीम

पश्चिम बंगाल में तीन चरण का चुनाव समाप्त हो गया है और अभी भी पांच चरण के लिए वोट डाले जाने शेष हैं। इस बीच एआईएमआईएम ने भी चुनावी मैदान में प्रवेश किया है मगर उन्हें ममता सरकार ने बड़ा झटका दिया है। 

आजतक की खबर के अनुसार दावा है कि आज ही मुर्शिदाबाद के भरतपुर में होने वाली असदुद्दीन ओवैसी की रैली की परमिशन खारिज कर दी गई है।

जानकारी के अनुसार, ओवैसी के हेलिकॉप्टर को लैंड नहीं करने दिया गया और अनुमति आखिरी मोमेंट पर रद्द कर दी गई। ऐसे में अब आज होने वाली सभी रैलियों को रद्द कर दिया गया है। पार्टी का प्रयास है कि अगले दो दिन होने वाले कार्यक्रम जारी रहें।

गौरतलब है कि एआईएमआईएम ने इस बार बंगाल में कई सीटों पर चुनाव लड़ने की बात कही है। ओवैसी की पार्टी बंगाल में कुल सात सीटों पर प्रत्याशियों का ऐलान भी कर चुकी है। इसी सिलसिले में असदुद्दीन ओवैसी प्रचार करने में जुटे हैं। ओवैसी को पश्चिम बंगाल में 7, 8 और 9 अप्रैल को रैलियां करनी हैं। पार्टी के द्वारा जारी शेड्यूल के अनुसार असदुद्दीन ओवैसी मुर्शिदाबाद, मालदा, आसनसोल में चुनावी सभाएं करेंगे।

बता दें कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ओवैसी पर लगातार निशाना साध रही हैं। उनका कहना है कि ओवैसी की एंट्री से बीजेपी को फायदा मिलेगा। ओवैसी को वोट देने का मतलब बीजेपी को लाभ पहुंचाना है।