Home मैगज़ीन डिटेल
मैगज़ीन डिटेल

जनादेश-2019/पश्चिमी उत्तर प्रदेश: बदलती फिजा का संदेश

बागपत, कैराना, सहारनपुर, देवबंद, मुजफ्फरनगर, मेरठ से उभरते संकेतों का दूर तक हो सकता है असर, भाजपा के सामने सपा-बसपा-रालोद गठबंधन सबसे बड़ी चुनौती

चुनाव आयोग की अग्निपरीक्षा

चुनाव आयोग को आदर्श चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन के मामलों में फौरन कार्रवाई करके अपनी स्वायत्तता और शक्तियों को साबित करना चाहिए, ताकि लोगों का भरोसा उसमें कायम रहे

जनादेश-2019/पूर्वी उत्तर प्रदेश: आसान नहीं पूर्वांचल की जंग

भाजपा को सपा-बसपा गठबंधन की कड़ी चुनौती, कांग्रेस भी रिंग के बाहर नहीं, विद्रोहियों से भितरघात का डर

जनादेश -2019/विदर्भः बेरोजगारी, कृषि संकट से मुकाबला

जिन वादों को पूरा करने के नाम पर भाजपा सत्ता में आई थी, वही मुद्दे इस बार चुनाव में उसके लिए चुनौती बनकर सामने खड़े

जनादेश-2019/नए सूत्र और सूरमा: सत्रहवीं संसद के दल और देश

अगली लोकसभा में नई पीढ़ी के नेताओं के हाथ कमान ही नहीं आएगी, बल्कि नीतियों में आमूलचूल परिवर्तन की इबारत लिखी जाएगी

जनादेश-2019/चुनावी खर्च: खर्चो और जीतो

2019 का आम चुनाव हो सकता है दुनिया का सबसे खर्चीला चुनाव

जिताऊ चेहरों की किल्लत

उम्मीदवार तय करने में कांग्रेस और भाजपा के छूट रहे पसीने

मोदी पर भारी कर्जमाफी और एमएसपी

राज्य में 11 लोकसभा सीटों में तीन प्रत्याशियों को छोड़कर भाजपा और कांग्रेस ने इस बार नए-नवेले उम्मीदवारों पर लगाया दांव

मजबूत या मजबूर गठबंधन

नीतीश की ‘घरवापसी’ से एनडीए को 2014 जैसी सफलता की उम्मीद, महागठबंधन से सीधी टक्कर

इनेलो के वजूद पर घने बादल

पार्टी में बिखराव और जेजेपी के उदय से बदले समीकरण

पाकिस्तानी फसाने पर दांव

प्रधानमंत्री की रैलियों में पाकिस्तान का मुद्दा हावी, विपक्ष लगा रहा असली मुद्दों से भटकाने का आरोप

देखो तो कितनी है रोशनी?

तमिलनाडु की सियासत में अभिनेताओं के दखल को नया मुकाम दे पाएंगे कमल हासन या साबित होंगे फिसड्डी

विश्वकप दावेदारी कितनी मजबूत

दूसरे देशों की टीमें विश्वकप की तैयारी में व्यस्त जबकि हमारे खिलाड़ी आइपीएल टी-20 की चकाचौंध में मस्त, तो कौन करे फिक्र

डिजिटल सितारे: छोटी स्क्रीन, बड़े स्टार

डिजिटल एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री के चलते बड़े परदे का क्रेज मोबाइल स्क्रीन पर आया, तो कई प्रतिभाशाली कलाकारों की चमक भी खिली

विज्ञापन सितारे: इश्तेहारी चेहरे

कुछ चेहरों ने हजारों उत्पादों में दिलचस्पी जगाई, उनमें आज कुछ जाने-पहचाने हैं, तो कुछ पुराने विज्ञापनों के जादू से ही हैं चमकदार

प्रवासी भक्तों को चुनावी बुलावा

मोदी की सत्ता में वापसी के लिए सैकड़ों भाजपा समर्थक प्रवासी भारत पहुंचे, कई महीनों से सोशल मीडिया और गांव-शहरों की छान रहे खाक

पुस्तक समीक्षाः प्रेमकथा से ज्यादा राजनैतिक इतिहास

जिन्ना पर न जाने कितनी किताबें आ चुकी हैं। उनकी बेहद खूबसूरत पत्नी, रती पैटी पर भी कई हैं

प्रवासी भारतीय जीवन के अंतर्द्वंद्व

सूर्यबाला ने अमेरिका की यात्राएं कर प्रवासी भारतीयों के जीवन और संस्कृति की बारीक से बारीक बात को कथानक में जिस तरह पिरोया है, वैसा चित्रण किसी भी उपन्यास में पहली बार सामने आ सका है

लोकतंत्र का प्रहरी?

मीडिया का दायित्व नजर रखना है कि सरकारें लोकतांत्रिक ढंग से जनता के हित में काम कर रही हैं या नहीं

देश बचाएं या कैश

चीन सीमाओं और अर्थव्यवस्थाओं में इस कदर इतने अंदर तक घुस आता है कि बाद में पता चलता है कि जो मारिस गैरेज ब्रांड है, यह कोई पश्चिमी नहीं बल्कि चाइनीज ब्रांड है