Home मैगज़ीन डिटेल
मैगज़ीन डिटेल

गढ़ ढहा पर जमीन बाकी

भाजपा के जनाधार वाले सबसे अहम प्रदेश में कांग्रेस ने पलटी बाजी मगर शिवराज ने बचाई लाज

रणनीति नहीं, मुद्दे भारी

ये नतीजे 2019 के लोकसभा चुनावों के पहले बड़े संकेत दे गए। अब कांग्रेस को विपक्षी गठबंधन बनाने में ज्यादा तरजीह मिलेगी। भाजपा को सहयोगियों को अधिक जगह देने के साथ ही जनता के जीवन में बदलाव लाने वाले मुद्दों को केंद्र में रखना होगा

फाइनल के सूत्र

पांच राज्यों के चुनावी नतीजे कृषि, किसान और रोजगार के एजेंडे को केंद्र में लाए, कांग्रेस को लंबे अरसे बाद मिली शह, राहुल का कद बढ़ा, भाजपा के लिए हालात चिंताजनक

भाजपा का लक्ष्य, कांग्रेस के हाथ

कांग्रेस को अभूतपूर्व जनादेश, जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़-बसपा गठबंधन के भरोसे चौथी जीत हासिल करने की भाजपाई रणनीति धराशायी

चिंता का सबब दोनों ओर

वसुंधरा सरकार से नाराजगी को पूरा नहीं भुना पाई कांग्रेस, भाजपा की हर कोशिश हुई फेल

राजनैतिक असंतोष की लहर

नतीजों से निकले आगामी लोकसभा चुनाव के संकेत, भाजपा और कांग्रेस के साथ क्षत्रपों की भूमिका होगी अहम

केसीआर ही किंग

कांग्रेस-तेदेपा गठबंधन बेअसर सत्ता में टीआरएस की वापसी

पूर्वोत्तर में कांग्रेस साफ

10 साल बाद सत्ता में एमएनएफ की वापसी, कांग्रेस को झटका

क्या कुशवाहा नए मौसम विज्ञानी?

एनडीए से रालोसपा का निकलना सिर्फ नीतीश से कुशवाहा की अदावत नहीं, बिहार की राजनीति में तीसरा कोण बनने की महत्वाकांक्षा पुरानी

बुलंद हुड़दंग

बुलंदशहर कांड से प्रदेश में बदतर होती कानून-व्यवस्था पर उठ रहे सवाल, शासन-प्रशासन का रवैया भी गैर-जिम्मेदार

हॉलीवुड भी देसी हुनरमंदों का मुरीद

अब भारत के वीएफएक्स आर्टिस्ट अंतरराष्ट्रीय फलक पर लिख रहे नई इबारत, स्पेशल इफेक्ट के चमत्कार के लिए हॉलीवुड भी यहां के हुनरमंदों की तलाश में

देवताओं के गोत्र

देवताओं से उम्मीद थी कि मानव मात्र का उद्धार करेंगे, अब उन्हीं से पूछा जाएगा, हे देवता अपना गोत्र स्पष्ट करो, फिर हम बताएंगे कि आप हमारे उद्धार के लिए एलिजिबल हो या नहीं।

साख संदिग्ध, भ्रामक संदेश

नीति आयोग की दखल से सीएसओ पर भी सवाल, दुनिया चीन की तरह हमारे आंकड़ों पर भी करेगी संदेह

मिंट रोड की कमजोर होती साख

उर्जित पटेल और प्रमुख अर्थशास्त्रियों की विदाई ने मोदी सरकार पर खड़े किए गहरे सवाल

महज कुंभ का ख्याल

प्रयाग कुंभ के मद्देनजर गंगा किनारे कारखाने तीन महीने रोकने के कामचलाऊ उपाय पर भी उठे सवाल

जीन-संशोधित शिशुओं के नैतिक सवाल

चीनी वैज्ञानिक हे चियानकुई के प्रयोग की नैतिकता पर कई वैज्ञानिकों ने उठाए सवाल, ‘सीसीआर-5’ नामक जीन को संशोधित करने के लिए ‘क्रिस्पर केस-9’ तकनीक का किया उपयोग, आइवीएफ तकनीक से तैयार किए भ्रूण

कमाई का कौशल बढ़ा तो निवेश भी जरूरी

कामकाजी हों या महिला खिलाड़ी, ज्यादातर वित्तीय फैसलों के लिए पुरुषों पर ही निर्भर क्यों

कुंभ चित्रकारी से इमारतें रोशन

भित्तिचित्र के हुनर की लहर में इलाहाबाद में इंद्रधनुषी फिजा

लोक जीवन की समझ का कवि

नीरज पर यह पुस्तक उनके जीवन, साहित्य, संघर्ष और वैभव सबको समझने का एकाग्र प्रयत्न है, जिसके भीतर नीरज और उनके परिवेश की अनूठी छवियां अंकित हैं।

हवा बिकती है, खरीदोगे!

वायु प्रदूषण बना कंपनियों के लिए मुनाफे का नया धंधा, मास्क से लेकर बोतलबंद हवा भी बाजार में

केवल कोरी बातें, समाधान दूर

बचाव के नाम पर हम जो उपाय अपना रहे हैं वे वायु प्रदूषण की समस्या से निपटने में ज्यादा असरकारी नहीं

को बड़ छोट कहत अपराधू...

रविशंकर और विलायत खां दोनों अपनी-अपनी तरह से महान थे और महानता को तराजू में नहीं तौल सकते