Home » मैगज़ीन डिटेल

मैगज़ीन डिटेल

‘विकास’ के ‘अच्छे दिन’ घोटालों के करोड़ों से खरबों में पहुंचने के दिनों में बदल रहे हैं, क्षमता के अनुकूल रोजगार के वादे पकौड़ापरक रोजगार में बदल रहे हैं, और मध्यवर्ग बेचारा बना ‘विकास’ की मार झेल रहा है
पुरुषोत्तम अग्रवाल

Copyright © 2016 by Outlook Hindi.