Advertisement
Home मैगज़ीन डिटेल
मैगज़ीन डिटेल

जनादेश 2022/आवरण कथा: करो या मरो का ऐलान-ए-जंग

सत्तारूढ़ पार्टियों के लिए ही नहीं, विपक्षी दलों के लिए भी ये चुनाव अग्निपरीक्षा सरीखे, ये चुनाव देश की अगली सियासत का भी जनादेश सुनाएंगे और राजकाज के एजेंडे को भी बदल डालने का पुख्ता संदेश देंगे

मध्य प्रदेश: रोजगार का चुनावी दांव!

कांग्रेस ने बेरोजगारी को मुद्दा बनाया तो शिवराज का हर महीने रोजगार दिवस मनाने का ऐलान

झारखंड: हेमन्त की सोशल इंजीनियरिंग

सोरेन ने जन कल्याण से जुड़ी कई योजनाएं शुरू कीं, लेकिन इनकी सफलता पर सहयोगी कांग्रेस को भी संदेह

मध्य प्रदेश: जामनगर भेजने की जल्दबाजी

मुकेश अंबानी के जामनगर जू में बाघ और तेंदुए भेजने के फटाफट फैसले पर उठे सवाल

जनादेश 2022/आवरण कथा: राज्य चुनाव तय करेंगे महामहिम

यूपी-उत्तराखंड में भाजपा की सीटें घटीं तो अपना राष्ट्रपति-उपराष्ट्रपति बनाना होगा मुश्किल

जनादेश 2022/आवरण कथा: नारों का चुनाव

नारे अपनी संक्षिप्तता, चुटीलेपन, और द्रुत मंतव्य स्थापना के लिए जाने जाते हैं

जनादेश 2022/ उत्तर प्रदेश: बड़े लड़ैयों का रण-क्षेत्र

किसानों से लेकर बेरोजगारी तक मुद्दे तो अनेक, लेकिन लड़ाई सांप्रदायिक और अगड़ा-पिछड़ा गोलबंदी पर लाने की कोशिश

जनादेश 2022/पंजाब: नए समीकरण गढ़ती फिजा

लेकिन पंचकोणीय मुकाबले में तीन नए गठबंधन के उभरने से मतदाताओं की भी मुश्किलें बढ़ेंगी

जनादेश 2022/गोवा: उलझे मैदान में दावेदारी

भाजपा सत्ता-विरोधी रुझान से पस्त तो विपक्ष भी बिखरा-बिखरा

जनादेश 2022 उत्तराखंड: जनता के मुद्दों से सब दूर

भाजपा डबल इंजन सरकार के फायदे गिना रही तो कांग्रेस उसकी खामियां; पलायन, रोजगार, पानी जैसी समस्याओं की चर्चा तक नहीं

जनादेश 2022/नजरिया: असली मुद्दे गायब करने का जतन

इस वर्ष चुनाव की बिसात पर लोगों की जिंदगी और अर्थव्यवस्था के कई मसले, मगर सत्ता ही नहीं, विपक्ष की भी नजर से ओझल

जनादेश 2022/मणिपुर: छोटे दलों के बड़े सपने

प्रदेश में गठबंधन सरकार लेकिन चुनावी गठबंधन नहीं, इस बार भी त्रिशंकु विधानसभा के आसार

क्रिकेट: भारतीय टीम में बढ़ता भरोसे का अभाव

जिस तरह कोहली के पर कतरने की कोशिश हुई और कोहली ने कप्तानी छोड़कर जवाब दिया, यह सब भारतीय क्रिकेट के लिए ठीक नहीं

बॉलीवुड: चुनिंदा फिल्मों पर भरोसा

आज के स्टार एक बार में एक-दो फिल्मों पर ही ध्यान देना मुफीद समझते हैं, लेकिन अक्षय कुमार जैसे अपवाद भी

सप्तरंग

ग्लैमर जगत की हलचल

बिहार: सम्राट अशोक पर छिड़ी रार

इस वर्ष साहित्य अकादेमी से पुरस्कृत दया प्रकाश सिन्हा के नाटक में सम्राट अशोक के अपमान पर जदयू और भाजपा में ठनी

कारोबार: बड़ी कंपनियों को मात देते स्टार्टअप

ज्यादा पैसा, इंसेंटिव और बेहतर कार्य संस्कृति के साथ काम के समय की आजादी का आकर्षण

इंटरव्यू/भूपेश बघेल: “राज्यों को कर्ज की ओर ढकेल रहा केंद्र”

बघेल ने विकास के छत्तीसगढ़ मॉडल के बारे में विस्तार से बात की

पुस्तक समीक्षा: क्या लोकतंत्र का ढांचा बचा रहेगा?

उपन्यास पर पिछले चार दशकों की छाया है, लेकिन मूल कथा साल नब्बे के एक महीने की है

ओमिक्रॉन: कितनी खतरनाक है तीसरी लहर?

दूसरी लहर से ज्यादा संक्रामक मगर गनीमत कि यह अभी तक पहले जैसी घातक नहीं, मगर लोगों खासकर सरकारी लापरवाही जानलेवा हो सकती हैं

प्रथम दृष्टि: चुनाव और सोशल मीडिया

आज सोशल मीडिया दो खेमों में बंटा दिखता है, जहां हर चीज या तो श्वेत है या श्याम

संपादक के नाम पत्र

भारत भर से आई पाठकों की चिट्ठियां

खबर चक्र

चर्चा में रहे जो

शहरनामा/चौकोड़ी

चौकोड़ी की प्राकृतिक सुंदरता अत्यंत दर्शनीय है

विमर्श: विवाद के पीछे मंतव्य

सम्राट अशोक पर किया जा रहा हमला संघ की वैचारिक दृष्टिकोण की स्वाभाविक परिणति

स्मृति: कथक भी जिनका शिष्य बना

पंडित बिरजू महाराज नृत्य जगत के सूर्य थे


Advertisement
Advertisement