Home मैगज़ीन डिटेल
मैगज़ीन डिटेल

आवरण कथा: बीसेक में कुबेर

संपत्ति निर्माण अब समावेशी, हर वर्ग से नए उद्यमी, प्रोफेशनल और महिलाएं आगे आ रहीं, निकट भविष्य में भी यही ट्रेंड रहने की उम्मीद

उत्तर प्रदेश: वामा संजीवनी से पुनर्जीवन की आशा

प्रियंका गांधी ने उत्तर प्रदेश में कांग्रेस के 40 प्रतिशत टिकट महिलाओं को देने का खेला बड़ा दांव, लेकिन इससे फायदा कितना

पंजाब: कैप्टन की गुगली में कांग्रेस उलझी

कैप्टन ने नई पार्टी बनाने और भाजपा से गठजोड़ का संकेत देकर दिया झटका मगर कांग्रेस तो सिद्धू-चन्नी कुश्ती में ही फंसी

बिहार: लालटेन में लौटी रोशनी

सहयोगी पार्टी कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी पर राजद प्रमुख की टिप्पणी से खड़ा हुआ नया विवाद

आवरण कथा/इंटरव्यू/अंकुश सचदेवा/13 बार विफल होने के बाद बनाया शेयरचैट

शेयरचैट के 18 करोड़ और मौज के 16 करोड़ मासिक एक्टिव यूजर हैं

आवरण कथा/प्रोफाइल

हुरून इंडिया रिच लिस्ट 2021

आइपीएल: पैसों की बारिश

लखनऊ फ्रेंचाइजी के लिए 7,090 करोड़ और अहमदाबाद के लिए 5,625 करोड़ की बोली के बाद टीम मालिकों के सामने कमाई की चुनौती

बॉलीवुड: पुरानी रौनक की वापसी की आस

दिवाली पर उन्नीस महीने का थियेटरों का सूखा टूटेगा या फिर अभी इंडस्ट्री को और संघर्ष करना है, सितारों के लिए कठिन घड़ी

सप्तरंग

ग्लैमर जगत की हलचल

मुंबई क्रूज मामला: आरोपों के जाल में एनसीबी

आर्यन की गिरफ्तारी के बाद जांच अधिकारी समीर वानखेड़े पर प्रमुख गवाह के ही गंभीर आरोप लगाने से मामला उलझा

मुंबई क्रूज मामला: ड्रग्स के फंदे में मुंबई

मुंबई क्रूज मामला: ड्रग्स के फंदे में मुंबई

हंगर इंडेक्स: भूख का सच क्या

नए हंगर इंडेक्स पर केंद्र की प्रतिक्रिया नाराजगी भरी, लेकिन विशेषज्ञों के अनुसार इसे चेतावनी के रूप में लेना चाहिए

पलायन: नहीं मिली ‘स्वर्ग’ में जगह

घाटी में गैर-कश्मीरियों को लगातार निशाना बनाने के कारण महामारी के बाद एक बार फिर लौटा मजदूरों के पलायन का दौर

प्रोफाइल/निहंग: नीले चोले में ‘योद्धा’

सिंघू बॉर्डर पर दलित की हत्या से निहंगों की छवि को नुकसान, लेकिन त्याग की भावना वाली ‘गुरु की फौज’ सदियों से सम्मानित रही

प्रथम दृष्टि: निष्पक्ष का पक्ष

आर्यन प्रकरण को मीडिया का एक खेमा शाहरुख को प्रताड़ित करने की साजिश मान रहा है तो दूसरा खेमा एनसीबी को बदनाम करने की साजिश

संपादक के नाम पत्र

भारत भर से आईं पाठकों की चिट्ठियां

खबर चक्र

चर्चा में रहे जो

शहरनामा/रानीखेत

पर्वत का अद्भुत नजारा दिखाने वाला शहर

स्मृति/ भारत यायावर: कवि से जीवनीकार का सफर

भारत यायावर ऐसे ही लेखक थे, जिन्होंने महावीर प्रसाद द्विवेदी और फणीश्वर नाथ रेणु के लिए अपना जीवन लगा दिया।

स्मृति/ भारत यायावर: रेणु से मैंने पूछा, ‘आपने पॉलिटिक्स क्यों छोड़ दी?’

रेणु की यह चिरैया तो स्वयं रेणु की ही संवेदना थी, जो उनसे पूछताछ करती रहती थी