Home मैगज़ीन डिटेल
मैगज़ीन डिटेल

दावेदारी में तो दम

नीतीश कुमार की एनडीए सरकार के खिलाफ सत्ता-विरोधी रुझान और बेरोजगारी से त्रस्त राज्य में सरकारी नौकरी के वादे ने हाल तक बेदम से दिख रहे तेजस्वी को न सिर्फ भारी भीड़ खींचने वाले नेता में बदला, बल्कि वे अतीत की पोटली भी झटकने में कामयाब हुए

उद्धव हुए सख्त

भाजपा नेतृत्व के बारे में उद्धव का बयान संकेत है कि अपने ऊपर हमले को वे चुपचाप स्वीकार करने वाले नहीं

मध्य प्रदेश उपचुनाव: वोटर खामोश, बढ़ी बेचैनी

कांग्रेस में भीड़ देख उत्साह तो भाजपा सरकार न खोने के लिए कांग्रेस के और विधायकों को इस्तीफा दिलवाकर अपने पाले में लाने में जुटी, लेकिन दोनों पार्टियों से ऊंचा दांव ज्योतिरादित्य सिंधिया का लगा

पंजाब: मानने के मूड में नहीं किसान

नए कृषि कानूनों के खिलाफ अमरिंदर सरकार के नए विधेयकों के बाद भी किसानों का धरना जारी

उत्तर प्रदेश: ठिठका बंटा विपक्ष

कांग्रेस, रालोद, छोटी पार्टियां लोगों के बीच सक्रिय मगर मैदान में नदारद बड़े दावेदार सपा और बसपा आपस में भिड़े

नए पढ़े-लिखे दावेदार

चुनावों में भले ही अब भी बाहुबलियों की मौजूदगी हो, स्वच्छ छवि वाले अनेक उम्मीदवार भी मैदान में

“आज सिर्फ जाति का नजरिया गलत”

जनादेश'20 बिहार/इंटरव्यू/मनोज झा

“भाजपा को पता है बिहार की अहमियत”

जनादेश'20 बिहार/इंटरव्यू/के.सी. त्यागी

आइपीएल/नए सितारे: मैदान के पीछे चौके-छक्के

नई प्रतिभाओं की खोज से लेकर उन्हें तराशने में फ्रेंचाइजी की तैयारी जुदा, जिससे निखर रहे हैं अनजान चेहरे

“भारत में व्यावसायिक राजनीति है”

फिल्म/इंटरव्यू/मीरा नायर

सप्तरंग

ग्लैमर जगत की हलचल

“जीएसटी पर केंद्र का फैसला संघीय ढांचे पर चोट”

जीएसटी विवाद/ इंटरव्यू/टी.एस.सिंहदेव

बिहार का सच

बिहार के मतदाताओं से ऐसी अपेक्षा तो की ही जा सकती है कि वे वैसे उम्मीदवारों को जरूर धूल चटाएं जो बाहुबल, जाति या पैसे की ताकत पर चुनाव जीतने के अरमान संजोए हुए हैं

संपादक के नाम पत्र

भारत भर से आई पाठको की चिट्ठियां

अंदरखाने

सियासी दुनिया की हलचल

खबर चक्र

चर्चा में रहे जो

भविष्य की नौकरियां: हरफनमौला की तलाश

कोविड-19 महामारी से नौकरियों के बाजार में आया भारी बदलाव, अब कंपनियां ऐसों की तलाश में, जो हर मौके पर फिट

‘बी’ यानी बेस्ट स्कूल

यह समय परिवर्तनशील है, और कोविड-19 महामारी के बाद के काल में अनिश्चितताओं ने जिस तरह हमारे सामाजाकि-आर्थिक जीवन को प्रभावित किया है, उससे बी-स्कूल भी अछूते नहीं हैं।