Home मैगज़ीन डिटेल
मैगज़ीन डिटेल

क्यों हार जाती हैं हस्तियां

सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या से सेलिब्रिटी से लेकर आम आदमी में बढ़ रही प्रवृत्ति के मिले खतरनाक संकेत

राजनीति और कूटनीति

हाल के दिनों में विदेश नीति और अर्थनीति में राजनीति का घालमेल कुछ ज्यादा ही दिख रहा

भ्रष्टाचार पर चौतरफा घिरी योगी सरकार

सामने आए सत्तारूढ़ पार्टी के नेताओं संग परीक्षा माफियाओं के संबंध

घोटालों से पस्त गठबंधन सरकार

जजपा के 10 में से आधा दर्जन विधायक तीन महीने से दुष्यंत चौटाला के संपर्क में नहीं, ऐसी आशंका कि कभी भी बदल सकते हैं पाला

बाहरी-भीतरी संघर्ष

फिल्म उद्योग में सफल होने का तयशुदा फार्मूला नहीं, खेमेबाजी नए कलाकारों की बढ़ाती है मुश्किलें

मन हारने की वजहें कई

जागरूकता हो, तो अवसाद की समस्या शुरू होते ही परामर्श और इलाज से जीवन बचाया जा सकता है

चीनी गुगली बड़ी पेचदार

भारतीय क्रिकेट की पैसे की थैली चीनी पूंजी की डोर से जकड़ी है, उससे नाता तोड़ने का मतलब मुसीबत को बुलावा

...या केंद्र सत्ता सभा!

हाल के चुनाव में संसद के ऊपरी सदन में संख्या बल बदला तो एनडीए सरकार के लिए हुई आसानी

नई चीन नीति का वक्त

लद्दाख के पूर्वी इलाके में यथास्थिति कायम होना आसान नहीं, चीन के आक्रामक रुख पर नई सोच जरूरी

हर पड़ोसी मोर्चे पर दबाव बढ़ा

मोदी सरकार को ‘पड़ोस पहले’ की अपनी नीति पर पुनर्विचार का वक्त

चीन की रणनीति समझिए

भारत का फोकस पारंपरिक युद्ध की तैयारियों पर, जबकि चीन की तकनीकी युद्ध की तैयारियां बड़ी

बॉयकॉट कितना मुफीद

चीन का 30 फीसदी आयात ही रोकना संभव, पूरी तरह बहिष्कार कम से कम अभी व्यावहारिक नहीं लगता

दो शहरों की दास्तां

महामारी की तेजी मुंबई में घटी लेकिन दिल्ली में संक्रमण मामले देश में सबसे अधिक हुए, क्या है फर्क

जरूरतमंदों को मदद नहीं

बैंक उन्हीं उद्यमियों को कर्ज दे रहे जिनकी माली हालत पहले से अच्छी

छत्तीसगढ़ में हाथियों पर कहर

राज्य के घने जंगलों में कोयला खदानों की इजाजत से जंगल उजड़े तो हाथियों और आदमी के बीच मुठभेड़ की वारदातें भी बढ़ीं

टेनिस के लिए मेरी बाजुओं में अब भी दम

टेनिस में शारीरिक फिटनेस का बहुत महत्व है, ऐसे में कड़ी मेहनत करना बहुत आवश्यक

समय की कसौटी

पुस्तक समीक्षा

झारखंड का लजीज जायका

मशरूम प्रजाति के रुगड़ा में भरपूर पोषक तत्व हैं मगर बरसात के तीन महीने ही मिलता है और मुंह को स्वाद लग जाए तो बार-बार तलाशेंगे

कभी सब्जी, कभी पबजी

सप्‍तरंग

गरीबों की फिक्र करो

मौजूदा संकट से उबरने और समतावादी समाज के लिए महात्मा गांधी की सोच को अपनाने की जरूरत

हसीन अदाकारा की गर्दिश

कभी टाइम मैगजीन की कवर बनने वाली बिंदास परवीन बॉबी के आखिरी दिन तन्‍हाई में बीते

डब्लूटीओ के बहाने किसानों को झटका

सरकार के कुछ बड़े फैसलों में किसानों के हितों की बलि चढ़ाकर उद्योग को संरक्षण दिया गया