Home मैगज़ीन
मैगजीन
आउटलुक 23 अगस्त 2021 | Aug-23-2021

आवरण कथा/पोर्न धंधा : गरम मसाला

इंटरनेट, स्मार्टफोन, वेब सीरीज, ऐप, ओटीटी प्लेटफॉर्म के दौर में अश्लील वीडियो, फिल्मों, नग्न तस्वीरों का बाजार बेहिसाब बढ़ा, लॉकडाउन में सस्ते मनोरंजन, मजबूरी के दोहन और कमाई का जरिया बना

प्रशांत श्रीवास्तव और नीरज झा


आउटलुक 26 जुलाई 2021 | Jul-26-2021

आवरण कथा/बैंकिंग व्यवस्था/भगोड़ों की मौज, भंवर में फंसे बैंक

एनपीए बढ़ा, बैंकों को गहराते संकट से उबारने के उपाय ऊंट के मुंह में जीरे के सामान, गलतियों से सबक सीखने के प्रति लापरवाही, दिवालिया संहिता से सवालिया घेरे में बैंक, याराना पूंजीवाद और भगोड़ों पर कोई खास अंकुश नहीं

प्रशांत श्रीवास्तव

आउटलुक 12 जुलाई 2021 | Jul-12-2021

आवरण कथा/महंगाई और महामारी: करोड़ों के हाथ आई गरीबी

कोविड-19 से हर तबका प्रभावित, कोई बिजनेस बेचने तो कोई मेड का काम करने को मजबूर, लेकिन अमीरों की अमीरी भी बढ़ी

ज्योतिका सूद

आउटलुक 28 जून 2021 | Jun-28-2021

आवरण कथा/विपक्षी समीकरण : मुद्दा और मौका भरपूर, विपक्ष उतरेगा खरा?

विधानसभा चुनावों के नतीजों और कोविड-19 की दूसरी लहर के कारण पिछले सात साल में शायद पहली बार भाजपा और उसका केंद्रीय नेतृत्व बैकफुट पर, मगर क्या विपक्ष मुकाबले की एकजुट ताकत दिखा पाएगा

हरिमोहन मिश्र