Home मैगज़ीन
मैगजीन
आउटलुक, 1 जून 2020 | May-14-2020

बेमौत मरने की त्रासदी

भूख, भय, लाचारी से प्रवासी मजदूरों की दर्दनाक स्थिति, कुछ की मौत जैसे दृश्य की मिसाल ढूंढ़ना मुश्किल

प्रशांत श्रीवास्तव

आउटलुक, 18 मई 2020 | Apr-30-2020

कैसे रफ्तार पकड़े जिंदगी

ग्रामीण भारत में है ‘इंडिया’ की सेहत सुधारने का फॉर्मूला, फौरी राहत और कृषि को मजबूत करना होगा सार्थक विकल्प

हरवीर सिंह

आउटलुक, 4 मई 2020 | Apr-16-2020

कोरोना के असली योद्धा लाचार

महामारी के दौर में देश के हर आदमी को भोजन जिन करोड़ों किसानों की बदौलत संभव हो रहा है, उनकी सुध लेने में सरकारी पहल बेहद नाकाफी

हरवीर सिंह

आउटलुक, 20 अप्रैल 2020 | Apr-02-2020

भारत और इंडिया

बिना व्यापक योजना के महज चार घंटे की मोहलत पर 21 दिनों के लॉकडाउन के ऐलान से जो तसवीर उभरी वह देश की गलत प्राथमिकताओं को दर्शाती है

हरवीर सिंह

आउटलुक, 6 अप्रैल 2020 | Mar-19-2020

महामारी से बढ़ी लाचारी

कोरोना के आगे विकसित देश भी लाचार, भारत रोकथाम से चूका तो जिंदगियों और खस्ताहाल अर्थव्यवस्था के लिए भारी खतरा

प्रशांत श्रीवास्तव, हरीश मानव और नीरज झा