Home » रहन-सहन » फिटनेस फंडा » गर्मियों में ऐसे रखें त्वचा का ध्यान

गर्मियों में ऐसे रखें त्वचा का ध्यान

JUN 02 , 2016

त्वचा और बालों के सौंदर्य के लिए गर्मियों में ज्यादा से ज्यादा पानी पिएं। पानी के चलते रक्त की तरलता की वजह से शरीर में पोषाहार तत्वों और ऑक्सीजन का प्रवाह बना रहता है और विषैले पदार्थ निकलते रहते हैं। न केवल त्वचा के लिए बल्कि बालों की सुंदरता बनाए रखने के लिए भी पर्याप्त मात्रा में पानी पीना जरूरी है।

गर्मियों में ठंडे पेय जल पर्याप्त मात्रा में पीने चाहिए। यह आपको ठंडक देंगे। गर्मियों में नींबू पानी सबसे बेहतर पेय पदार्थ है। इसे स्वादिष्ट बनाने के लिए आप उसमें एक चम्मच शहद और चुटकी भर नमक मिला सकते हैं। यदि आप डायबटीज से ग्रसत हैं तो आपको फ्रूट जूस, कोल्ड ड्रिंक, नमक, चीनी और शहद आदि का उपयोग करने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए। ऐसी स्थिति में आप बोलत बंद पेय पदार्थो की बजाय ताजे फलों के जूस का सेवन करना चाहिए। गुलाब और खस के अर्क से बने हर्बल ड्रिंक का उपयोग गर्मियों में शरीर को प्राकृतिक शीतलता प्रदान करेगा। इन पदार्थो को समाज में सदियों से उपयोग में लाया जा रहा है। हर्बल ड्रिंक में हल्का नींबू जूस मिलाकर एक चम्मच शहद और बर्फ मिलाकर आईसड टी का प्रयोग कीजिए।

गर्मियों में बर्फ के साथ जल जीरा लेने से भी शरीर को शीतलता मिलती है। मसालेदार, चटपटे, तले भूने खाने से परहेज करें। उनकी बजाय सूप, लस्सी, दही, ताजे फल, सलाद को अपनी खुराक में शामिल करें। ताजे फलों और सलाद से शरीर में पानी की पर्याप्त उपलब्धता भी सुनिश्चित रहती है। वास्तव में प्रकृति द्वारा प्रदान किये गए मौसमी फल हमारी शरीर की जरूरतों के पूरी तरह अनुरूप होते है। गर्मियों में खरबूजा, तरबूज, ककड़ी काफी मात्रा में सस्ते दामों पर मिल जाते हैं। इनमें काफी मात्रा में पानी होता है।

Advertisement

गर्मियों में खाने के बाद मिठाई की बजाय दही के साथ शहद का सेवन करें। फल खाएं। गर्मियों में आप खाना खाने के बाद लस्सी पर्याप्त मात्रा में लीजिए। इससे शीतलता तो मिलेगी ही बल्कि खाना भी हजम होगा। नीबूं एवं पूदीने की पत्तियां निचोड़कर इन्हें उबलते गर्म पानी में एक घंटे तक उबलते रहने दीजिए। जब पानी ठण्डा हो जाए तो इसमें नींबू का रस और बर्फ मिला लें। यह एक ताजगी प्रदान करने वाला पेय बन जाएगा। आप इसमें अपने सवाद अनुसार शहद, चुटकी भर नमक और काली मिर्च मिला सकते हैं। नमक और काली मिर्च की बजाय आप इसमें सेंधा नमक या चाट मसाला भी डाल सकते हैं। पुदीने से शरीर में शीतलता आती है और यह कब्ज दूर करने में भी सहायक होता है।

 (लेखिका मशहूर सौंदर्य विशेषज्ञ हैं।)

 


अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या
एपल स्टोर से

Copyright © 2016 by Outlook Hindi.