Home » रहन-सहन » फिटनेस फंडा » हरी सब्जियां बचाएं स्ट्रोक से

हरी सब्जियां बचाएं स्ट्रोक से

JAN 29 , 2018

लॉस एजिंल्स, कैलिफोर्निया में हुई अंतरराष्ट्रीय स्ट्रोक कॉन्फ्रेंस में अमेरिकन स्ट्रोक असोसिएशन ने बताया कि हरी पत्तेदार सब्जियां यदि नियमित रूप से खानपान में शामिल हों तो ब्रेन स्टोक का खतरा कम हो जाता है।

रिसचर्स का कहना है कि हरी पत्तेदार सब्जियां तनाव को घटाती हैं और दिमाग की नसों को शांत करती है। यदि आप पालक, मेथी, बथुए, सोय-सरसों की साग को देख कर मुंह बिगाड़ते हैं तो यकीनन यह खबर आपके लिए ही है।

पत्तेदार सब्जियां न सिर्फ दिमाग की नसों को शांत कर तनाव दूर करती हैं बल्कि यह खून को भी साफ रखने में मदद करती हैं। चिकित्सकों का मानना है कि पत्तेदार सब्जियां इंटरासेरेबल हैमरेज, जिसमें मस्तिष्क के अंदर रक्तस्राव होता है को रोकने में कारगर है। अमेरिकन स्ट्रोक असोसिएशन का कहना है कि हैमरेज की समस्या दिन ब दिन लोगों में बढ़ती जा रही है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि लगभग 700 लोगों पर अध्ययन कर पाया कि जिन लोगों ने अपने खाने में नियमित रूप से हरी पत्तेदार सब्जियों को शामिल किया था उन लोगों में स्ट्रोक में 64 फीसदी तक की कमी देखी गई।

चिकित्सकों का कहना है कि 93.9 प्रतिशत लोगों में उच्च रक्तचाप की वजह से स्ट्रोक का खतरा देखा गया। जबकि 7.2 प्रतिशत लोगों में ब्लड वैसल की बनावट में त्रुटि की वजह से यह खतरा मंडराता है।   

उच्च रक्तचाप वाले मरीज जो ब्रेन ब्लीड से संबंधित थे के मुकाबले उसी सुमदाय के लोगों जिन्हें स्ट्रोक नहीं हुआ था की तुलना करने पर शोधार्थियों ने पाया कि मधुमेह से पीड़ित लोगों में यह खतरा 2.33 गुना ज्यादा था। जबकि 2.22 प्रतिशत लोगों में यह खतरा देखा गया जिन्होंने कार्यस्थल पर और घर पर तनाव की बात कही थी। इनमें 10.01 गुना ज्यादा खतरा उन लोगों को था जो सिगरेट पीते हैं और जिन लोगों का कोलेस्ट्रॉल स्तर असामान्य रूप से बढ़ा हुआ था उन लोगों में यह खतरा 1.69 गुना ज्यादा था। जबकि हरी पत्तेदार सब्जियां खाने वाले 64 प्रतिशत लोगों में इसका खतरा सबसे कम पाया गया।

इनपुट एएनआई


अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या
एपल स्टोर से

Copyright © 2016 by Outlook Hindi.