Home रूबरू सामान्य चुनाव के नतीजे चाहे जो भी हो, मध्यप्रदेश में भाजपा की रहेगी सरकार: नरोत्तम मिश्रा

चुनाव के नतीजे चाहे जो भी हो, मध्यप्रदेश में भाजपा की रहेगी सरकार: नरोत्तम मिश्रा

शमशेर सिंह - OCT 22 , 2020
चुनाव के नतीजे चाहे जो भी हो, मध्यप्रदेश में भाजपा की रहेगी सरकार: नरोत्तम मिश्रा
चुनाव के नतीजे चाहे जो भी हो बनेगी भाजपा की सरकार: नरोत्तम मिश्रा

मध्य प्रदेश में कांग्रेस के विघटन की शुरूआत हो गई है। अगले विधान सभा चुनाव में उसका स्थान यदि कोई नई पार्टी हथिया ले तो आश्चर्य नहीं करना चाहिए। यह मानना है मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा का, जिन्होंने आउटलुक के शमशेर सिंह से उपचुनाव , उसके परिणाम और विपक्षी पार्टी कांग्रेस की स्थिति पर विस्तार से चर्चा की। ग्वालियर-चंबल क्षेत्र से आने वाले  नरोत्तम मिश्रा का दावा है कि उपचुनाव में सभी 28 सीटें जीतकर भाजपा राज्य को एक मजबूत सरकार देगी।
 
ग्वालियर-चंबल की जनता ने 2018 विधान सभा चुनावों में भाजपा को नकार दिया था। आप उसी क्षेत्र से आते है , इसलिए वहां की जनता की नब्ज़ को आप बेहतर समझते है।  आप को अब वहां की क्या तस्वीर बनती हुई दिख रही है।
 
उस क्षेत्र की सभी सीटों पर भाजपा को विजय मिलने जा रही है।  इसकी दो मुख्य वजह है। पहली, कांग्रेस ने वहां के किसान और नौजवान को घोखा दिया है।  उस क्षेत्र से अभी तक कोई मुख्यमंत्री नहीं हुआ है। 2018 के चुनावों में वहां के लोगों को लगा था कि सिंधिया के रूप में उनके  क्षेत्र का मुख्यमंत्री बन सकता है, इसलिए उन्होंने  सिंधिया को मुख्यमंत्री बनाने के लिए  कांग्रेस को वोट किया। सरकार बनने के बाद मुख्यमंत्री कमलनाथ को बना दिया। इससे वहां के नौजवानों के साथ धोखा हुआ। इसी तरह कर्जमाफी का सपना दिखाकर उसे पूरा नहीं किया तो किसानों के साथ घोखा हुआ। दूसरी वजह, सिंधिया के भाजपा में आने के बाद उस पूरे क्षेत्र में कांग्रेस समाप्त हो गई है। कांग्रेस का पूरा संगठन ही खत्म हो गया है।

कई स्वतंत्र सर्वेक्षणों में भाजपा को कम सीटें मिलने की बात कही जा रही है। ऐसी स्थिति में भाजपा की क्या रणनीति होगी?

इस तरह के सर्वे को हम कोई महत्व नहीं देते है, फिर भी स्पष्ट कर दूं कि भाजपा की सरकार बनी हुई है। हमारे पास सभी निर्दलीय और दूसरी पार्टियो ं का समर्थन है। उसके बाद बहुमत के लिए केवल एक सीट चाहिए , तो यह तय है कि सरकार तो भाजपा की ही रहेगी, पर हम राज्य में एक मजबूत सरकार देना चाहते है। उसके बाद ही तेजी से विकास के कार्य होते है। उसी पर हमारा काम हो रहा है। इसके अलावा यह भी तय मानिये कि भाजपा आ जहां पर भी है वहां से चुनाव की तारीख तक वह लगातार मजबूत ही होगी। हम घर-घर जाकर लोगों तक अपनी बात पहुंचा रहे है।
 
आप राज्य के गृह मंत्री है और कांग्रेस लगातार राज्य की खराब कानून व्यवस्था की बात उठा रही है। हाल में कई ऐसी घटनाएं भी घटी है जो उनके आरोप को बल देती है। इस बारे में क्या कहेंगे?

जिनके घर खुद शीशे के हो उनको दूसरों के घरों पर पत्थर नहीं मारने चाहिए।  उनके कार्यकाल में लोग जिंदा जला दिये गये है। अपहरण के बाद लाश ही मिलती थी। इस तरह के मामलों में कोई कार्यवाही भी नहीं हुई। दूसरी ओर थानों की नीलामी होती थी, मंत्रालय को दलालों का अड्डा बना दिया था और ये लोग कानून व्यवस्था की बात करते है। इसके अलावा जो हाल की घटनाएँ हुई है वो बहुत दुखद है किन्तु देख लीजिये कि सभी में त्वरित कार्रवाई हुई है और गिरफ्तारियां भी हो गईं हैं।

भाजपा इन चुनावों में कितनी सीटें जीत रही है?
 
सभी 28 सीटें भाजपा के खाते में आ रही है और हम
एक मजबूत सरकार राज्य को देंगे। इस सरकार में प्रदेश का विकास ही केवल एजेंडा है।  मध्य प्रदेश विकास की नई परिभाषा  लिखेगा।

कमलनाथ जी के हाल के बयान को जनता किस रूप में लेगी। उसका क्या असर चुनाव पर देखते है?

जनता उन्हें कभी माफ नहीं करेगी। इसका ख़ामियाज़ा चुनाव में भुगतना पड़ेगा। जनता समझ गई है कि वे कोई राजनेता नहीं है वो तो उद्योगपति है, जो चाँदी की चम्मच के साथ पैदा हुए।  जिन्होंने कभी खेतों में पैर नहीं रखा हो वे लोगों का दुख क्या समझेंगे। जनता ऐसे व्यक्ति को कभी स्वीकार नहीं करेगी।

उस बयान के बाद कांग्रेस में जो आपसी खींचतान  चल रही है, उसको आप किस रूप में देखते है।
 
मध्य  प्रदेश में अब कोई दूसरी पार्टी ही कांग्रेस की जगह लेगी। वहां तो विघटन की शुरूआत हो चुकी है। अगले चुनाव तक उसका बहुत कुछ खत्म हो चुका होगा। इसके अलावा चुनाव परिणाम के बाद यह भी तय है कि कांग्रेस को नया प्रदेश अध्यक्ष और नया नेता  प्रति पक्ष भी मिलेगा। ये दोनो पद अभी कमलनाथ के पास है। 

आप खुद ग्वालियर-चंबल से आते है, उसके बावजूद अभी तक आपकी सक्रियता काफी कम है क्या कोई नाराज़गी है?
 
ऐसा कुछ भी नहीं है। मैं लगातार प्रचार में लगा हुआ हूं। यहां संगठन ने सभी लोगों की भूमिका तय कर रखी है। उसी के अनुसार सब काम करते है। 

चुनाव परिणाम भाजपा के पक्ष में आने के बाद क्या आपकी भूमिका में  किसी तरह का कोई बदलाव देखने को मिलेगा?

मैं पार्टी का अनुशासित कार्यकर्ता हूं। हमेशा उसी के आदेश  का पालन करता हूं। पार्टी का जो आदेश होगा उसी के अनुसार काम करूंगा।
अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से