Home रूबरू सामान्य इंटरव्यू । जाति-धर्म के आधार पर नहीं सबके लिए किया है काम: गडकरी

इंटरव्यू । जाति-धर्म के आधार पर नहीं सबके लिए किया है काम: गडकरी

प्रशांत श्रीवास्तव - APR 10 , 2019
इंटरव्यू । जाति-धर्म के आधार पर नहीं सबके लिए किया है काम: गडकरी
केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी
File Photo

नागपुर से दोबारा केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी अपना भाग्य आजमा रहे हैं। उन्हें पूरा भरोसा है कि पिछले पांच साल में उन्होंने जो काम किए हैं, उसके आधार पर जनता पिछली बार से भी ज्यादा मतों से विजयी बनाएगी। साथ ही केंद्र में पूर्ण बहुमत की सरकार भारतीय जनता पार्टी ही बनाएगी, उसे पिछली बार से ज्यादा सीटें मिलेंगी। चुनाव की स्थिति पर 'आउटलुक' के एसोसिएट एडिटर प्रशांत श्रीवास्तव ने नितिन गडकरी के नागुपर स्थित घर पर बात की है। पेश हैं उसके प्रमुख अंश..

आप केंद्र में वरिष्ठ मंत्री और पार्टी के वरिष्ठ नेता हैं ऐसे में आप नागपुर को कितना समय दे पाते हैं?

देखिए मैंने नागपुर से ही अपने राजनीतिक सफर की शुरूआत की है। यहां पर मैंने बूथ स्तर से काम किया है। मैं यहां के लोगों के लिए नया नहीं हूं। लोगों को वन-टू-वन जानता हूं। इस बार कहीं ज्यादा मतों से जीतूंगा। इसके अलावा मैं हर शनिवार-रविवार नागपुर में रहता हूं, ऐसे में समय कम देने का कोई सवाल ही नहीं है।

किन कामों के आधार पर आप वोट मांग रहे हैं ?

जहां तक काम की बात है तो पिछले पांच साल में मैंने 70 हजार करोड़ रुपये के काम नागपुर में किए हैं। जाति और संप्रदाय के आधार पर काम नहीं किया है। सभी लोगों का समर्थन मिल रहा है। सड़कें, मेट्रो, रोजगार के नए अवसर पैदा करने जैसे सभी काम किए हैं।

चुनाव प्रचार की क्या रणनीति है?

मेरे 10 हजार मजबूत कार्यकर्ता हैं, जो रोज सुबह प्रचार के लिए निकलते हैं। घर-घर जा रहे हैं। साथ ही रैली, रोड शो भी कर रहा हूं। लोगों का सहयोग देखकर मुझे पूरा विश्वास है कि इस बार पिछली बार से भी ज्यादा मतों से जीतूंगा।

इस बार लग रहा है कि दलित वोटर भाजपा से नाराज हैं, ऐसे में पिछली बार जैसा समर्थन मिलने की संभावना कम है, यह कितनी बड़ी चुनौती है?

कोई नाराजगी नहीं है। मैं सभी के लिए काम करता हूं। दस हजार करोड़ रुपये का बुद्ध सर्किट शुरू किया है। जो बहुत बड़ा काम है। इसके अलावा कई सारे विकास के काम किए हैं। तो नाराजगी का कोई सवाल ही नहीं है, पिछली बार से ज्यादा सपोर्ट मिलेगा।

इस बार केंद्र और राज्य में भाजपा की क्या संभावनाएं हैं?

पिछली बार से ज्यादा सीटें जीतेंगे। केंद्र में भी पूर्ण बहुमत के साथ सरकार बनेगी। इसी तरह महाराष्ट्र में भी पिछली बार से ज्यादा भाजपा-शिवसेना गठबंधन को सीटें मिलेंगी। सभी मिलकर काम कर रहे हैं, इसका फायदा मिलेगा।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से