Advertisement
Home देश उत्तराखंड: वक्फ बोर्ड का बड़ा फैसला, मदरसों में लागू होगा एनसीईआरटी पाठ्यक्रम और ड्रेस कोड

उत्तराखंड: वक्फ बोर्ड का बड़ा फैसला, मदरसों में लागू होगा एनसीईआरटी पाठ्यक्रम और ड्रेस कोड

आउटलुक टीम - NOV 24 , 2022
उत्तराखंड: वक्फ बोर्ड का बड़ा फैसला, मदरसों में लागू होगा एनसीईआरटी पाठ्यक्रम और ड्रेस कोड
उत्तराखंड: वक्फ बोर्ड का बड़ा फैसला, मदरसों में लागू होगा एनसीईआरटी पाठ्यक्रम और ड्रेस कोड
आउटलुक टीम

उत्तराखंड वक्फ बोर्ड ने राज्य में मदरसा शिक्षा के आधुनिकीकरण के प्रयासों के तहत अगले साल से अपने मदरसों में एनसीईआरटी पाठ्यक्रम और ड्रेस कोड लागू करने का फैसला किया है।

उत्तराखंड वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष शादाब शम्स ने गुरुवार को बताया कि बोर्ड ने सभी धर्मों के बच्चों के लिए अपने मदरसों के दरवाजे खोलने का भी फैसला किया है। बोर्ड उत्तराखंड में 103 मदरसे चलाता है।

बोर्ड ने यह भी फैसला किया है कि उसके मदरसे छात्रों को सुबह साढ़े छह बजे से साढ़े सात बजे तक सिर्फ एक घंटे के लिए धार्मिक शिक्षा देंगे और अन्य स्कूलों की तरह रोजाना सुबह आठ से दोपहर दो बजे तक सामान्य विषयों की कक्षाएं संचालित करेंगे।

शम्स ने कहा, "हम अपने मदरसों में अंग्रेजी माध्यम के स्कूलों की तर्ज पर एनसीईआरटी पाठ्यक्रम और एक ड्रेस कोड लागू करेंगे ताकि छात्र स्कूल जाने वाले बाकी बच्चों के समान महसूस करें।"

उन्होंने कहा कि विचार मदरसा छात्रों को अकादमिक मुख्यधारा में शामिल होने और उन्हें बेहतर भविष्य के लिए तैयार करने में मदद करना है। उन्होंने कहा कि बोर्ड ने देहरादून, हरिद्वार और उधमसिंह नगर जिले में दो-दो और नैनीताल में एक मॉडल मदरसा बनाने का भी फैसला किया है, जहां स्मार्ट कक्षाएं आयोजित की जाएंगी।

शम्स ने कहा, "यह फैसला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मदरसा जाने वाले बच्चों के एक हाथ में पवित्र कुरान और दूसरे हाथ में लैपटॉप रखने के दृष्टिकोण को ध्यान में रखते हुए लिया गया है। हम चाहते हैं कि मदरसे आधुनिक शिक्षा के केंद्र के रूप में उभरें।"

इस बीच, वक्फ बोर्ड ने अपने मदरसों में हाफिज-ए-कुरान की शिक्षा की अवधि को चार साल से बढ़ाकर 10 साल करने का भी फैसला किया है, ताकि कोर्स पूरा होने तक छात्र 10वीं या 12वीं कक्षा पास कर चुके हों और पर्याप्त परिपक्व हो जाएं।  

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से

Advertisement
Advertisement