Home » देश » राज्य » पंजाब 'आप' के तीन विधायक केजरीवाल से मिले, रविवार को भी करेंगे मीटिंग

पंजाब 'आप' के तीन विधायक केजरीवाल से मिले, रविवार को भी करेंगे मीटिंग

MAR 17 , 2018

- हरीश मानव

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा मानहानि मामले में पंजाब के पूर्व मंत्री अकाली दल नेता बिक्रम मजीठिया से लिखित माफी मांगने से पंजाब की आप की राजनीति में तूफान आ गया। इसी सिलसिले में शनिवार को दिल्ली में केजरीवाल से पंजाब अाप के तीन विधायकों ने मुलाकात की। यह मुलाकात केजरीवाल के घर पर हुई। केजरीवाल और मनीष सिसोदिया से पंजाब के तलवंडी साबो से विधायक बलजिंदर कौर, कोटकपुरा से विधायक कुलतार सिंह और रोपड़ से विधायक अमरजीत सिंह शामिल थे। पंजाब मसले को लेकर हुई इस बैठक के खत्म होने के बाद घर से बाहर आए तीनों विधायकों में से किसी ने भी मीडिया से बातचीत नहीं की। मनीष सिसोदिया भी बिना कुछ बोले वहां से चले गए।  रविवार शाम 5 बजे दोबारा केजरीवाल के घर बैठक होगी।

दिल्ली में भी राजनीति गर्म, लगाए गए केजरीवाल के पोस्टर

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के अकाली नेता बिक्रम मजीठिया से लिखित माफी मांगने के मामले में एक ओर तो पार्टी मे घमासान मचा है और दूसरी तरफ विपक्षी नेता भी तंज कसने से नहीं चूक रहे हैं। राजौरी गार्डन से बीजेपी विधायक मनजिंदर सिंह सिरसा ने तो अरविंद केजरीवाल की तस्वीर वाले पोस्टर सड़कों पर लगवा दिए हैं। इस पोस्टर में लिखा गया है, 'मैं एक झूठा मुख्यमंत्री हूं।' इसके साथ ही केजरीवाल द्वारा मजीठिया को लिखा गया पत्र भी छापा गया है। मनजिंदर सिंह सिरसा ने 2017 में हुए उपचुनाव में जीत दर्ज की थी। उन्होंने केजरीवाल पर तंज कसते हुए पोस्टर में लिखवाया है, 'पहली बार किसी मुख्यमंत्री ने लिखित में कबूला- मैं एक झूठा मुख्यमंत्री हूं।'

माफी प्रकरण में फुलका की आप नेताओं को नसीहत

केजरीवाल माफी प्रकरण में एडवोकेट एचएस फुलका ने ट्वीट कर पंजाब के आप नेताओं को नसीहत देते कहा है कि स्वायत्तता की मांग करो। अलग पार्टी ना बनाएं। पंजाब आप नेताओं को 'आप' के साथ मिलकर एक क्षेत्रीय पार्टी के रूप में काम करना चाहिए। केजरीवाल के इस अप्रत्याशित कदम के लिए उनके इर्द-गिर्द रहने वाली मंडली को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं। राज्यसभा चुनाव को लेकर आप के अंदर आई दरार इस मामले से और गहरा गई है। वहीं, पंजाब में आप के नेता, विधायक और कार्यकर्ता एक अलग पार्टी बना सकते हैं। आप की पंजाब पार्टी इकाई के प्रभारी और राज्यसभा सदस्य संजय सिंह ने खुद को अलग कर लिया है। वे मजीठिया पर ड्रग्स कारोबार में लिप्त होने के अपने बयान पर अडिग हैं। उन्होंने कहा कि वे इस मामले पर अंत तक लड़ेंगे और विक्रम मजीठिया को जेल भिजवा कर ही दम लेंगे। मजे की बात है कि मजीठिया ने इस मामले में तीन आप नेताओं के खिलाफ मानहानि का मुकदमा किया था। केजरीवाल के अलावा आशीष खेतान ने भी माफी मांग ली है। उन्होंने माफीनामा संजय सिंह के पास भी भेजा था, लेकिन उन्होंने इस पर दस्तखत करने से इंकार कर दिया। इस मामले में अदालत में संजय सिंह की पैरवी कर रहे वकील हिम्मत सिंह शेरगिल का कहना है कि मानहानि के मामले में अधिक से अधिक दो साल तक की सजा हो सकती है।


अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या
एपल स्टोर से

Copyright © 2016 by Outlook Hindi.