Home » देश » राज्य » 'रजिया बानो' नाम का फेक अकाउंट बनाकर झूठ फैलाते हुए पकड़ा गया पवन शर्मा

'रजिया बानो' नाम का फेक अकाउंट बनाकर झूठ फैलाते हुए पकड़ा गया पवन शर्मा

JUL 03 , 2018

मंदसौर में आठ साल की बच्ची के साथ हुई बर्बरता के बाद पूरे देश में आक्रोश है लेकिन कठुआ गैंगरेप के बाद देश में हर रेप को सांप्रदायिक रंग देने की कोशिश होने लगी है।

बलात्कारियों के समर्थन में बात रखते हुए 'रजिया बानो' नाम का एक फेसबुक अकाउंट पिछले कई दिनों से जहर फैला रहा है। पोस्ट के जरिये यह जताने की कोशिश की जा रही है कि कुछ महीने पहले पूरे देश को हिला कर रख देने वाले कठुआ कांड का हिसाब बराबर कर लिया गया। फेसबुक प्रोफाइल आरोपी की कथित फोटो के साथ ‘हिंदुस्तान का शेर’ जैसी बातें लिखी गई हैं। इसे देखकर कई हिंदू आक्रोशित हुए। 

सोशल मीडिया में इस पोस्ट ने खासी नाराजगी पैदा की है। कई लोग मंदसौर की घटना को मुस्लिमों के बदले के तौर पर देखने लगे हैं। लिहाजा यह जानना जरूरी था कि इस तरह का भड़काऊ पोस्ट लिखने वाली रजिया बना आखिर है कौन? क्या रजिया बानो कोई असली फेसबुक यूजर है या फिर यह अकाउंट फेक है। आल्ट न्यूज ने इस संबंध में पड़ताल की है।

क्या कहती है फेसबुक प्रोफाइल?

फेसबुक प्रोफाइल के मुताबिक, रजिया बानो कराची, पाकिस्तान में रहती है और आवर लेडी फातिमा यूनिवर्सिटी (OLFU) में पढ़ाती है। उसने यह भी दावा किया है कि उसने इसी यूनिवर्सिटी में फैशन आर्ट पढ़ा है। इस फेसबुक अकाउंट और इसके पोस्ट में कई सुराग हैं जो साफ बताते हैं कि रजिया बानो एक फेक अकाउंट है।

रजिया की सही स्पेलिंग 'Raziya' होनी चाहिए न कि 'Rajiya' हालांकि कई हिंदी भाषी लोग ज़ को ज कहते हैं। लेकिन किसी पाकिस्तानी का बगैर नुक्ते के रजिया लिखा जाना संदेह पैदा करता है। यह तर्क दिया जा सकता है कि सिर्फ गलत स्पेलिंग से यह साबित नहीं हो जाता कि यह फेक अकाउंट है। तो बात करते हैं उसकी प्रोफाइल पिक्चर की।

इंटरनेट का एक आम प्रोफाइल पिक्चर

अकाउंट में इस्तेमाल किया गया फोटोग्राफ कॉमन प्रोफाइल पिक्चर है, जिसका कई सालों से इस्तेमाल होता रहा है। कई फेक अकाउंट में यह ट्रेंड देखा जाता है, जहां इंटरनेट पर मौजूद फोटो का ही इस्तेमाल होता है। आप इस इमेज को गूगल पर सर्च करके कई जगह देख सकते हैं।

पवन शर्मा या रजिया बानो?

20 मई के इस फेसबुक पोस्ट ने जहर उगलने वाली रजिया बानो का पर्दाफाश कर दिया 'क्या हाल है दोस्तों। के नाम से डाले गए पोस्ट के जवाब में जो कमेंट आए थे। उनमें यह पूछा गया था कि इस शख्स ने अपना नाम क्यों बदल दिया है। एक कमेंट में इस शख्स को शर्मा जी कह कर संबोधित किया गया था। ऐसा लगता है कि वे व्यक्तिगत तौर पर एक दूसरे को जानते हों। दूसरे कमेंट में इस शख्स को पवन नाम से बुलाया गया था। अपने नए अवतार में यह शख्स अपने दोस्तों के साथ एंगेज था। शर्मा जी ने लिखा था, ‘जस्‍ट वेट एंड वॉच डियर।’ हालांकि पवन शर्मा भी उसका असली नाम है या नहीं, यह वही बता सकता है।

बहरहाल, रजिया बानो का फेक प्रोफाइल डिलीट कर दिया गया है लेकिन कई वास्तविक सोशल मीडिया यूजर्स फेक रजिया बानो के पोस्ट के शिकार बन गए। लेकिन मानसिक तौर पर सांप्रदायिकता कितनी फैल गई, इसका परिणाम समाज में नफरत के तौर पर सामने आता है।


अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या
एपल स्टोर से

Copyright © 2016 by Outlook Hindi.