Home देश राज्य पंजाबः कोरोना टेस्टिंग के लिए लग रही हैं लंबी कतारें, करना पड़ रहा है चार से पांच घंटे का इंतजार

पंजाबः कोरोना टेस्टिंग के लिए लग रही हैं लंबी कतारें, करना पड़ रहा है चार से पांच घंटे का इंतजार

आउटलुक टीम - APR 08 , 2021
पंजाबः कोरोना टेस्टिंग के लिए लग रही हैं लंबी कतारें, करना पड़ रहा है चार से पांच घंटे का इंतजार
पंजाबः कोरोना टेस्टिंग के लिए लग रही हैं लंबी कतारें, करना पड़ रहा है चार से पांच घंटे का इंतजार
FILE PHOTO
आउटलुक टीम

चडीगढ़, पंजाब में कोरोना विस्‍फोट जारी है। पिछले 24 घंटे के दौरान राज्‍य में 72 लोगों की मौत हो गई और 2714 नए मरीज मिले हैं। अब तक राज्य में कुल 7155 लोगों की जान जा चुकी है। दूसरी तरफ संक्रमण के रोजाना बढ़ते मामलों में बीच टैस्ट कराने वालों की कतारें बढ़ती जा रही हैं। जालंधर,मोहाली,अमृतसर और लुधियाना के सरकारी अस्पतालों में चार से पांच घंटे का इंतजार है। कमोवेश यही हालात राजधानी चंडीगढ़ के भी हैं।

पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू का कहना है कि स्वास्थ्य विभाग ने प्रतिदिन कोरोना टैस्टिंग क्षमता 25,000 से बढ़ाकर 30,000 कर दी है पर हो सकता है कि जिस रफ्तार से कोराना बढ़ रहा है उस रफ्तार से टैस्ट कराने वालों की संख्या प्रतिदिन 40,000 भी हो सकती है। इसके लिए राज्य सरकार ने प्राइवेट अस्पतालों में भी टैस्ट की सुविधा बढ़ाई है। पिछले 24 घंटे में पंजाब मंे कोरोना संक्रमण के 2714 नए मामले सामने आए हैं जिसमें मोहाली में 452, लुधियाना में 390, जालंधर में 370, अमृतसर में 202, होशियारपुर में 195, पटियाला में 177, कपूरथला में 142 और बठिंडा में 112 लोगों को पुष्टि हुई है। पिछले एक महीने में संक्रमित मामलों की संख्या भी बढ़कर 25419 हो गई है।

पिछले 24 घंटे के दौरान सबसे ज्यादा 11 मौतें होशियारपुर में हुई। गुरदासपुर और लुधियाना में आठ-आठ, जालंधर और कपूरथला में सात-सात, नवांशहर में छह, अमृतसर व मोहाली में पांच-पांच लोगों ने दम तोड़ा है। पटियाला और फिरोजपुर में चार-चार, फतेहगढ़ साहिब में दो और बरनाला, मुक्तसर, पठानकोट, संगरूर और तरनतारन में एक-एक कोरोना मरीज की मौत हुई है। पंजाब सरकार ने कोरोना से बचाव को मुख्य रखते हुए राज्य में रोजाना 2.34 लाख लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य निर्धारित किया है। एक से छह अप्रैल के बीच 6,51,363 लोगों को वैक्सीन की पहली और 6,536 लोगों को दूसरी डोज दी गई है। डोज की संभावित कमी से पार पाने के लिए पहली व  दूसरी डोज के बीच का अंतराल 28 दिन से बढ़ाकर 45 दिन कर दिया है।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से