Home देश राज्य क्या है पोल्लाची मामला, जिसमें 50 से ज्यादा महिलाओं का हुआ यौन शोषण

क्या है पोल्लाची मामला, जिसमें 50 से ज्यादा महिलाओं का हुआ यौन शोषण

आउटलुक टीम - MAR 13 , 2019
क्या है पोल्लाची मामला, जिसमें 50 से ज्यादा महिलाओं का हुआ यौन शोषण
क्या है पोल्लाची मामला, जिसमें 50 से ज्यादा महिलाओं का हुआ यौन शोषण
Symbolic Image
आउटलुक टीम

तमिलनाडु स्थित कोयंबटूर के पोल्लाची में एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। यहां पर चार युवकों के एक ऐसे गैंग का खुलासा हुआ जो कार के अंदर खींचकर लड़कियों और महिलाओं के साथ यौन शोषण करके उनका वीडियो बनाते थे। एक मामले में पड़ताल करते हुए पकड़े गए युवकों के बाद खुलासा हुआ कि वे अब तक इस तरह से लगभग पचास से ज्यादा वारदातों को अंजाम दे चुके हैं। उन्होंने स्कूल और कॉलेज की लड़कियों के साथ भी यौन शोषण किया। वह इन लड़कियों का वीडियो बनाने के बाद उन्हें ब्लैकमेल करते थे। युवकों के खिलाफ विभिन्न आईपीसी की धाराओं में केस दर्ज करने के साथ ही उनके ऊपर गुंडा ऐक्ट के तहत भी कार्रवाई की गई है और अब केस सीबीसीआईडी को ट्रांसफर किया जा रहा है।

महिला आयोग ने मांगी रिपोर्ट

राष्ट्रीय महिला आयोग ने आज मामले को संज्ञान में लिया है। आयोग का कहना है, ‘आयोग तमिलनाडु में महिलाओं की सुरक्षा को लेकर चिंतित है। मामले की गंभीरता को देखते हुए कहा गया है कि आरोपियों के खिलाफ कानून के तहत समुचित कार्रवाई की जाए और कार्रवाई की रिपोर्ट आयोग को सौंपी जाए।‘

लंबे समय से चल रहा घिनौना खेल

एसपी ग्रामीण आर पंडीराजन ने बताया कि 19 साल की एक छात्रा को कुछ लड़कों ने एक कार के अंदर खींचकर उसका शारीरिक शोषण किया था। 12 फरवरी को हुई इस घटना में युवकों ने छात्रा के कपड़े फाड़ने से लेकर उसके साथ शारीरिक शोषण करने तक का वीडियो बनाया था। उसके गले में पड़ी सोने के चेन भी छीन ली थी। यह घिनौना खेल पिछले लंबे समय से चल रहा था।

डीएमके ने किया विरोध प्रदर्शन

छात्रा की शिकायत के बाद पोल्लाची पुलिस ने केस दर्ज कर लिया था। यह केस मीडिया में उछला और पुलिस ने भी उतनी ही तेजी से कार्रवाई शुरू कर दी। पोल्लाची ईस्ट पुलिस ने तिरुनवुक्कारासू (26), एन सतीश (29), एन सबरीरंजन (25) और टी वसंतकुमार को गिरफ्तार किया था। पुलिस ने बताया कि जांच में सामने आया कि इन युवकों का यह गैंग इस तरह की लगभग पचास घटनाओं को अंजाम दे चुका है। मामले को लेकर मंगलवार को डीएमके ने विरोध प्रदर्शन भी किया था।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से