Home देश राज्य झारखंड: मिशनरी ऑफ चैरिटी पर लगा बच्‍चे बेचने का आरोप, दो नन गिरफ्तार

झारखंड: मिशनरी ऑफ चैरिटी पर लगा बच्‍चे बेचने का आरोप, दो नन गिरफ्तार

आउटलुक टीम - JUL 05 , 2018
झारखंड: मिशनरी ऑफ चैरिटी पर लगा बच्‍चे बेचने का आरोप, दो नन गिरफ्तार
झारखंड: मिशनरी ऑफ चैरिटी पर लगा बच्‍चे बेचने का आरोप, दो नन गिरफ्तार
ANI

झारखंड की राजधानी रांची स्थित मिशनरी ऑफ चैरिटी पर कथित तौर पर बच्चों को बेचने का आरोप लगा है। इस मामले में दो नन को गिरफ्तार किया गया है। रांची के डीएसपी श्यामानंद मंडल ने बताया कि इन ननों ने चार बच्चे बेचे। तीन झारखंड में और एक उत्तर प्रदेश में। आगे की जांच जारी है।

राज्य की बाल कल्याण समिति ने इस मामले में चैरिटी के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई थी। वहीं, बाल कल्याण समिति ने नवजात बच्चों को इस समिति से बरामद कर लिया है। फिलहाल इन बच्चों को एक अन्य संस्था में रखा गया है।

श्यामानंद मंडल ने बताया, “कुछ और बच्चों के भी अवैध तरीके से बेचे जाने की बात सामने आई है। उन बच्चों की मांओं के नाम पुलिस को मिले हैं। इसकी जांच की जा रही है।”

पुलिस ने इस सेंटर में छापा मारकर एक लाख 48 हजार रुपये भी जब्त किए हैं। पुलिस का कहना है कि गिरफ्तार की गई और हिरासत में ली गई महिलाकर्मियों ने बच्चों को बेचने की बात स्वीकार की है। पुलिस को आशंका है कि इस काम में बड़ा गिरोह सक्रिय हो सकता है। आरोप है कि 14 दिन के एक बच्चे का एक दंपती के हाथों एक लाख बीस हजार रुपये में सौदा किया गया।

बाल कल्याण समिति और पुलिस का कहना है कि मिशनरी ऑफ चैरिटी की महिला कर्मचारी ने पूछताछ में ये जानकारी दी है। महिला कर्मचारी ने बताया है कि इस राशि में से 90 हजार रुपये एक सिस्टर को दिए गए।

इस बीच भाजपा के सांसद समीर उरांव और भाजपा अनुसूचित जनजाति मोर्चा के अध्यक्ष रामकुमार पाहन ने एक बयान जारी कर कहा है कि सेवा के नाम पर झारखंड में मिशनरीज़ की पोल अब खुलने लगी है.


अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से