Home देश राज्य कठुआ गैंगरेप: पीड़िता की हत्या को जायज ठहराने वाले कर्मचारी को कोटक महिंद्रा ने नौकरी से निकाला

कठुआ गैंगरेप: पीड़िता की हत्या को जायज ठहराने वाले कर्मचारी को कोटक महिंद्रा ने नौकरी से निकाला

आउटलुक टीम - APR 14 , 2018
कठुआ गैंगरेप: पीड़िता की हत्या को जायज ठहराने वाले कर्मचारी को कोटक महिंद्रा ने नौकरी से निकाला
कठुआ गैंगरेप: पीड़िता की हत्या को जायज ठहराने वाले कर्मचारी को कोटक महिंद्रा ने

कठुआ और उन्नाव में हुई रेप की घटनाओं से जहां एक तरफ पूरा देश शर्मसार है, वहीं कुछ लोग ऐसे मामलों में आपत्तिजनक और अभद्र टिप्पणियां कर अपनी असंवदेनशीलता का परिचय दे रहे हैं। ऐसा ही एक मामला केरल में सामने आया, जहां कोटक महिंद्रा बैंक के कर्मचारी ने आठ साल की कठुआ गैंगरेप पीड़िता के बारे में फेसबुक पर आपत्तिजनक टिप्पणी की। उसने लिखा, "अच्छा हुआ उसे अभी मार दिया गया, वरना कल को वह भारत के खिलाफ फिदायीन बनकर आती।"

इस टिप्पणी के सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद हजारों लोगों ने कोटक महिंद्रा बैंक से इसकी शिकायत की थी। कोटक महिंद्रा बैंक ने बताया कि उसने कठुआ बलात्कार पीड़िता के बारे में सोशल मीडिया पर विवादित टिप्पणी करने वाले कर्मचारी को उसी दिन बर्खास्त कर दिया था। विष्णु नंदुकुमार नाम के उस मैनेजर को नौकरी से निकाल दिया गया है।

बैंक के प्रवक्ता रोहित राव ने कहा कि इस तरह की घटना के बारे में किसी के भी द्वारा चाहे वह बैंक का कर्मचारी ही क्यों न हो, ऐसी टिप्पणी करते देखना बेहद दुखद है। हमने खराब प्रदर्शन को लेकर नंदुकुमार को 11 अप्रैल को नौकरी से निकाल दिया है। वह कोच्चि स्थित पलरिवत्तम शाखा में सहायक प्रबंधक के तौर पर कार्यरत था। 

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से