Home » देश » मुद्दे » #MeToo के लपेटे में केन्द्रीय मंत्री एमजे अकबर और एक्टर आलोक नाथ, लगे यौन उत्पीड़न के आरोप

#MeToo के लपेटे में केन्द्रीय मंत्री एमजे अकबर और एक्टर आलोक नाथ, लगे यौन उत्पीड़न के आरोप

OCT 09 , 2018

तनुश्री दत्ता मामले के बाद अब कई महिलाओं ने अपने खिलाफ हुए शोषण पर खुलकर आवाज उठानी शुरू कर दी है। नाना पाटेकर, कैलाश खेर और विकास बहल पर लगे यौन शोषण के आरोपों के बाद अब मौजूदा विदेश राज्य मंत्री और कई अखबारों और पत्रिकाओं के संपादक रह चुके एम जे अकबर और वरिष्ठ अभिनेता आलोक नाथ पर यौन शोषण के आरोप लगे हैं।

एमजे अकबर पर क्या हैं आरोप

प्रिया रामानी नाम की सीनियर पत्रकार ने ट्वीट किया है कि एमजे अकबर ने होटल रूम में इंटरव्यू के दौरान आपत्तिजनक हरकतें की है। वहीं एक और महिला ने कहा कि सीनियर जर्नलिस्ट रहे अकबर होटल के कमरे में इंटरव्यू लेते थे और महिलाओं को अपने बिस्तर और शराब ऑफर करते थे। एक महिला ने हार्वे विन्सिटन्स ऑफ द वर्ल्ड नाम से लिखे पोस्ट में कहा है कि अकबर गंदे फोन कॉल, टेक्स्ट, और असहज करने वाले कॉम्प्लिेंट्स में माहिर हैं।

पोस्ट में कहा गया है, "आप जानते हैं कि कैसे चुटकी काटी जाए। थपथपाया जाए, जकड़ा जाए और हमला किया जाए। आपके खिलाफ बोलने की अब भी भारी कीमत चुकानी पड़ती है। ज्यादातर युवा महिलाएं यह कीमत अदा नहीं कर सकतीं।"

हालांकि जब पोस्ट पब्लिश की गई थी उस समय महिला को प्रताड़ित करने वाला का नाम तो नहीं बताया गया लेकिन इसे लिखने वाली ने अब आरोपों की पुष्टि की है और एम जे अकबर का नाम लिया है। एक अन्य महिला ने भी आरोपों की पुष्टि की है कि अकबर ने उसके सामने भी कई अश्लील प्रस्ताव रखे थे। 1995 में कोलकाता के ताज बंगाल में अकबर ने उसके सामने ऐसे अश्लील ऑफर दिए थे और उसके बाद उसने जॉब ऑफर ठुकरा दी थी।

आलोक नाथ पर क्या हैं आरोप

आलोक नाथ के खिलाफ फिल्ममेकर विंटा नंदा ने यौन शोषण का आरोप लगाया है। विंटा ने एक फेसबुक पोस्ट के जरिए पूरे मामले को खुलकर पब्लिक में सामने रखा है। विंटा ने बिना आलोक नाथ का नाम लिए लिखा, "उन्होंने मेरे साथ शारीरिक दुर्व्यवहार किया, जब मैं साल 1994 के मशहूर शो 'तारा' के लिए काम कर रही थी।"

समाचार एजेंसी आइएएनएस के मुताबिक, विंटा ने पुष्टि की है कि वह व्यक्ति आलोक नाथ है जिन पर उन्होंने यौन शोषण का आरोप लगाया है।

विंटा नंदा ने फेसबुक पर लिखा, "मुझे पार्टी में बुलाया गया था। उनकी पत्नी और मेरी बेस्ट फ्रेंड उस वक्त शहर से बाहर थे। यह हमेशा की तरह आम पार्टी थी जिसमें मेरे कुछ दोस्त जो कि थियेटर से भी जुड़े हुए है वह भी आते थे, इसलिए मैंने पार्टी में जाने से एतराज नहीं किया। पार्टी के दौरान मेरी ड्रिक्स में कुछ मिलाया गया जिसके बाद मुझे अजीब से लगने लगा। रात के करीब 2 बजे मैं उनके घर से निकली। मुझे किसी ने घर छोड़ने को नहीं कहा। मैं इतनी  होश में तो थी कि मुझे लगा कि उनके घर पर ठहरना सही नहीं है।"

विंटा ने आगे लिखा, "मैं घर से निकली और अपने घर की तरफ चल पड़ी। तभी वह कार लेकर मेरे बगल ने निकला और बोला कि मैं तुम्हें छोड़ दूंगा। मैं यकीन करती थी इसलिए बैठ गई। उसके बाद ठीक से क्या हुआ याद नहीं था मुझे। बस इतना याद है मुझे कुछ जबरदस्ती पिलाया गया था। जब सुबह उठी तो दर्द महसूस हुआ। तब मुझे पता चला कि मेरा बलात्कार हुआ है। यह सब साल 1994 के मशहूर शो 'तारा' के लिए काम कर रही थी। खुद को उस स्थिति से बाहर निकालने में मुझे 20 साल लग गए। मेरा आत्मविश्वास अब लौट आया है और इसी वजह से अब इस बात को आप लोगों से साझा करने की हिम्मत जुटा पाई हूं।"

आलोक नाथ की सफाई

इस मामले में आलोक नाथ का बयान भी सामने आ गया है। आलोक नाथ ने न्यूज चैनल से बात करते हुए कहा कि आज के जमाने में अगर कोई महिला किसी पुरुष पर आरोप लगाती है तो पुरुष का इस पर कुछ भी कहना मायने नहीं रखता।'


अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या
एपल स्टोर से

Copyright © 2016 by Outlook Hindi.