Home देश मुद्दे भाजपा सांसद ने की राम मंदिर के लिए कानून की मांग, राजनाथ ने कहा-“थोड़ा इंतजार कीजिए”

भाजपा सांसद ने की राम मंदिर के लिए कानून की मांग, राजनाथ ने कहा-“थोड़ा इंतजार कीजिए”

आउटलुक टीम - DEC 18 , 2018
भाजपा सांसद ने की राम मंदिर के लिए कानून की मांग, राजनाथ ने कहा-“थोड़ा इंतजार कीजिए”
भाजपा सांसद ने की राम मंदिर के लिए कानून की मांग, राजनाथ ने कहा-“थोड़ा इंतजार कीजिए”
आउटलुक टीम

भाजपा के संसद सदस्यों की बैठक में एकबार फिर राम मंदिर के लिए कानून बनाने की मांग उठी। उत्तर प्रदेश के सांसद ने मंदिर के जल्द निर्माण के लिए कानून लाने की मांग की। इस पर केंद्रीय गृह मंत्री ने उन्हें धैर्य रखने की सलाह दी। यह मुद्दा यूपी के घोशी से सांसद हरि नारायण राजभर ने उठाया, जिसका समर्थन सलेमपुर सांसद रविंद्र कुशवाहा ने किया। वहीं, मौजूद बाकी सांसदों ने इसके समर्थन में तालियां बजाईं। इसकी प्रतिक्रिया में राजनाथ सिंह ने कहा, “थोड़ा इंतजार कीजिए।”

राजभर ने कहा कि यह आस्था का विषय है और जल्द-से-जल्द इसका हल निकाला जाना चाहिए। इसका सबसे अच्छा तरीका संसद में कानून पारित करना है। सुप्रीम कोर्ट की तरफ से राम मंदिर-बाबरी मस्जिद विवाद की सुनवाई जनवरी 2019 तक टालने के बाद अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण की मांग तेज हुई है। आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत कई मौकों पर इसके पक्ष में बोल चुके हैं। वे अयोध्या में राम मंदिर के जल्द निर्माण के लिए उचित कानून बनाने की भी मांग कर चुके हैं। विश्व हिंदू परिषद और हिंदू धार्मिक गुरू इस मुद्दे पर अध्यादेश लाने या कानून बनाने को लेकर सरकार पर लगातार दबाव बना रहे हैं।

राहुल पर निशाना

राहुल गांधी भाजपा सरकार के खिलाफ लगातार अभियान चला रहे हैं। इस बाबत बैठक में भाजपा सांसदों को गांधी के खिलाफ आक्रामक तरीके से जवाब देने की सलाह दी गई। हालांकि, इस बैठक में मोदी या भाजपा अध्यक्ष अमित शाह मौजूद नहीं थे। बैठक के बाद संसदीय मामलों के मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने पत्रकारों को कहा कि केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने सांसदों को तीन तलाक विधेयक और राफेल मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले से अवगत कराया।

तोमर ने कहा कि बैठक में 1984 के सिख विरोधी दंगा मामले में अदालत के फैसले पर भी चर्चा की गई। उन्होंने कहा, “इस सत्र में हमारी प्राथमिकता तीन तलाक विधेयक को पास कराना है।” सरकार ने सोमवार को लोकसभा में यह विधेयक पेश किया था।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से