Home देश मुद्दे दिल्ली में प्रदूषण पर बैठक छोड़ इंदौर में जलेबी खाते दिखे सांसद गंभीर, आप ने साधा निशाना

दिल्ली में प्रदूषण पर बैठक छोड़ इंदौर में जलेबी खाते दिखे सांसद गंभीर, आप ने साधा निशाना

आउटलुक टीम - NOV 15 , 2019
दिल्ली में प्रदूषण पर बैठक छोड़ इंदौर में जलेबी खाते दिखे सांसद गंभीर, आप ने साधा निशाना
दिल्ली में प्रदूषण पर बैठक छोड़ इंदौर में जलेबी खाते दिखे सांसद गंभीर, आप ने साधा निशाना
आउटलुक टीम

दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण पर बुलाई गई बैठक से अनुपस्थित रहने और इंदौर में जलेबी खाते दिखने की फोटो वायरल होने के बाद पूर्वी दिल्ली से भाजपा के सांसद और पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर निशाने पर हैं। दिल्ली के प्रदूषण पर शुक्रवार को संसद की स्टैंडिंग कमेटी फॉर अर्बन डेवेलपमेंट की बैठक बुलाई गई थी। इसमें समिति के सभी सदस्यों और अघिकारियों को जाना था। लेकिन कि बैठक में 30 में से कथित तौर पर सिर्फ चार सदस्य ही पहुंचे। इस पर आम आदमी पार्टी ने गौतम गंभीर को निशाने पर ले लिया।

आम आदमी पार्टी के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से गंभीर की इंदौर में जलेबी खाते हुए कुछ तस्वीरें शेयर की गई हैं। आम आदमी पार्टी ने गंभीर पर प्रदूषण को लेकर सियासत करने का आरोप लगाया।

आप की ओर से किए ट्वीट में लिखा, 'दिल्ली प्रदूषण की वजह से बेदम है और गौतम गंभीर इंदौर में मस्ती करने में व्यस्त हैं। सांसद को दिल्ली आना चाहिए और वायु प्रदूषण पर हो रही मीटिंग में शामिल होना चाहिए। बैठक रद्द हो गई क्योंकि एमसीडी, डीडीए, पर्यावरण मंत्रालय और दिल्ली के सांसद नदारद रहे।'

गंभीर हमेशा अपनी जिम्मेदारी से भागते हैं

आम आदमी पार्टी ने एक और ट्वीट में लिखा, 'प्रदूषण पर सियासत करने को बोलो तो गौतम गंभीर हाजिर हो जाएंगे, लेकिन जब काम करने की बात आती है तो गौतम गंभीर हमेशा अपनी जिम्मेदारी से भागते हैं।' एक अन्य ट्वीट में लिखा गया, 'इस बैठक का एजेंडा कई सप्ताह पहले ही तय हो गया था, लेकिन ईस्ट दिल्ली से सांसद गौतम गंभीर नहीं पहुंचे। क्या कॉमेंट्री बॉक्स तक ही सीमित है प्रदूषण को लेकर गंभीरता?'

बैठक में पहुंचे केवल चार सदस्य

दिल्ली एनसीआर में प्रदूषण से निपटने के लिए क्या किया जा रहा है इसे लेकर आज शहरी विकास मंत्रालय की संसदीय स्टैंडिंग कमेटी की बैठक बुलाई गई थी। वरिष्ठ अधिकारियों के ना आने के कारण बैठक कुछ ही मिनटों में खत्म कर दी गई। यह स्टैंडिंग कमिटी की पहली मीटिंग थी। कमिटी में कुल 30 सदस्य हैं, इसमें से कथित तौर पर केवल चार ही पहुंचे थे।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से