Home देश भारत अगस्त से पहले शुरू हो सकती है अंतर्राष्ट्रीय उड़ानें: केंद्रीय उड्डयन मंत्री हरदीप पुरी

अगस्त से पहले शुरू हो सकती है अंतर्राष्ट्रीय उड़ानें: केंद्रीय उड्डयन मंत्री हरदीप पुरी

आउटलुक टीम - MAY 23 , 2020
अगस्त से पहले शुरू हो सकती है अंतर्राष्ट्रीय उड़ानें: केंद्रीय उड्डयन मंत्री हरदीप पुरी
अगस्त से शुरू हो सकती है अंतर्राष्ट्रीय उड़ानें, उड्डयन मंत्री ने दिए संकेत
File Photo
आउटलुक टीम

25 मई से शुरू होने जा रही घरेलू उड़ानों के बाद अब अंतर्राष्ट्रीय उड़ानें भी शुरू हो सकती है। शनिवार को केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिहं पुरी ने कहा है कि अगस्त से पहले अंतर्राष्ट्रीय उड़ान को भी शुरू करने की कोशिश की जा रही है। फेसबुक लाइव सेशन में पुरी ने कहा, “हमें आशा है कि अगस्त और सितंबर महीने से पहले, हम अंतर्राष्ट्रीय उड़ान को संचलित कर पाएंगे।“ हालांकि, उन्होंने स्पष्ट किया कि अभी किसी तारीख की घोषणा नहीं की जा सकती है। उन्होंने कहा कि यह कोरोना की परिस्थिति पर निर्भर करता है।

कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए लागू देशव्यापी लॉकडाउन की वजह बीते 25 मार्च से घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय यात्री उड़ानें बंद हैं।

एक तिहाई विमान ही होंगे संचालित

25 मई से शुरू हो रहे घरेलू उड़ान को लेकर नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने सभी तरह के दिशा निर्देश जारी कर दिए हैं। यात्रा को लेकर कई तरह के दिशा निर्देश यात्रियों के लिए जारी किए गए हैं जिनका पालन करना अनिवार्य है। फिलहाल एक तिहाई विमान ही संचालित होंगे। केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी के मुताबिक अनुभव के आधार पर संख्या में बढ़ोतरी की जाएगी। मंत्रालय ने किराए पर नियंत्रण को लेकर दूरी और घंटे के हिसाब से अगले तीन महीने के लिए किराया तय किए है।

रेलवे सेवा भी शुरू

लॉकडाउन के चौथा चरण 31 मई तक लागू है। रेलवे ने भी एक जून से 200 ट्रेने संचालित कर दी है। जिसकी बुकिंग शुरू है। इन सभी ट्रेनों में सामान्य कोच उपलब्ध नहीं है। इनमें सिर्फ स्लिपर और टीयर वन, टू और थ्री कोच ही उपलब्ध है। इन ट्रेनों को खास तौर से देश के छोटे-छोटे शहरों के लिए चलाया गया है। इसके साथ ही श्रमिक स्पेशल और एसी स्पेशल ट्रेनों का संचालन होता रहेगा। लॉकडाउन की वजह से देश में बड़ी तादाद में प्रवासी श्रमिक फंसे हुए हैं। जिनकों उनके गंतव्य राज्य पहुंचाने के लिए ये ट्रेनें चलाई जा रही है। लेकिन, अभी भी श्रमिक पैदल जाने को मजबूर हैं।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से