Home देश भारत तीसरे चरण के ट्रायल में कोवैक्सिन 81% असरदार, कोरोना के नए वैरिएंट्स से लड़ने में भी सक्षम: भारत बायोटेक

तीसरे चरण के ट्रायल में कोवैक्सिन 81% असरदार, कोरोना के नए वैरिएंट्स से लड़ने में भी सक्षम: भारत बायोटेक

आउटलुक टीम - MAR 03 , 2021
तीसरे चरण के ट्रायल में कोवैक्सिन 81% असरदार, कोरोना के नए वैरिएंट्स से लड़ने में भी सक्षम: भारत बायोटेक
कोरोना वैक्सीन
file photo
आउटलुक टीम

भारत बायोटेक ने बुधवार को कोविड-19 वैक्सीन ने तीसरे चरण के ट्रायल का परिणाम जारी किया है। जिसमें कंपनी ने कोवैक्सिन के तीसरे चरण के क्लीनिकल ट्रायल के  नतीजे को लेकर बताया है कि ये वैक्सीन 81% तक असरदार साबित हुई है। केंद्र ने पिछले महीने वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल को मंजूरी दी थी।

हैदराबाद स्थित वैक्सीन मेजर द्वारा जारी बयान के अनुसार आईसीएमआर के सहयोग से तीसरे चरण के ट्रायल में 21 शहरों के 25,800 लोगों को शामिल किया गया है। भारत बायोटेक के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक कृष्णा एला ने कहा है कि आज का दिन हमारी उपलब्धि के लिए बहुत बड़ा है। क्लीनिकल ट्रायल्स के तीनों चरण में हमने 27 हजार वॉलंटियर्स पर इस वैक्सीन का प्रयोग किया।

उन्होंने आगे कहा कि कोवैक्सिन कोरोना वायरस के खिलाफ असरदार साबित हुआ है। ये वैक्सीन तेजी से सामने आ रहे वायरस के विभन्न वैरिएंट्स के खिलाफ भी असरदार साबित होगी। 

बता दें, कोवैक्सिन को भारत बायोटेक द्वारा भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के सहयोग से स्वदेशी रूप से विकसित किया गया है। इसमें कोवैक्सीन और ऑक्सफोर्ड एस्ट्राजेनेका का कोविशील्ड शामिल है। ऑक्सफोर्ड- एस्ट्राजेनेका के वैक्सीन का उत्पादन सीरम इंस्टीट्यूड ऑफ इंडिया कर रहा है।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से