Home देश भारत हाफिज सईद के खिलाफ पाक की कार्रवाई पर बोला भारत, ‘यह महज दिखावा’

हाफिज सईद के खिलाफ पाक की कार्रवाई पर बोला भारत, ‘यह महज दिखावा’

आउटलुक टीम - JUL 04 , 2019
हाफिज सईद के खिलाफ पाक की कार्रवाई पर बोला भारत, ‘यह महज दिखावा’
हाफिज सईद के खिलाफ पाक की कार्रवाई पर बोला भारत, ‘यह महज दिखावा’
आउटलुक टीम

मुंबई हमलों के मास्टरमाइंड आतंकी हाफिज सईद पर पाकिस्तान की ओर से कार्रवाई पर भारत ने प्रतिक्रिया दी है। पाकिस्तान सरकार की ओर से आतंकी हाफिज सईद के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने और कार्रवाई की बात को भारत सरकार ने महज दिखावा करार दिया है।

विदेश मंत्रालय ने कहा कि पाकिस्तान आतंकवादी समूहों के खिलाफ अपने ''दिखावटी कदमों से अंतरराष्ट्रीय समुदाय की आंखों को धूल झोंकने की कोशिश कर रहा है। टेरर फंडिंग मामले में जमात उद दावा के प्रमुख आतंकी हाफिज सईद के खिलाफ मुकदमे पर भारत के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा हमे आतंकवादी समूहों के खिलाफ पाकिस्तान के दिखावटी कदमों से झांसे में नहीं आना चाहिए। 

विदेश मंत्रालय ने कहा, “पाकिस्तान आतंकवादी समूहों के खिलाफ कार्रवाई के नाम पर अंतरराष्ट्रीय समुदाय की आंखों में धूल झोंकने की कोशिश कर रहा है। आतंकवाद और बातचीत साथ-साथ नहीं चल सकता। पाकिस्तान को जल्द हाफिज सईद को भारत को सौंप देना चाहिए।”

अंतरराष्ट्रीय समुदाय के सामने दिखावा करता है पाक

भारतीय विदेश मंत्रालाय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि पाकिस्तान आतंकी समूहों और आतंकवादियों पर कार्रवाई को लेकर कितना गंभीर है, इसका फैसला सत्यापनीय, विश्वसनीय और अपरिवर्तनीय कार्रवाई को प्रदर्शित करने की उनकी क्षमता के आधार पर किया जाएगा। उन्होंने कहा, 'पाकिस्तान आतंक के खिलाफ कार्रवाई का दावा करता है, लेकिन जब हम ऐसे लोगों पर कार्रवाई करने को कहते हैं, जो साफ तौर पर आतंकी गतिविधियों में शामिल हैं तो वह मुकर जाता है। वहीं दूसरी तरफ अंतरराष्ट्रीय समुदाय के सामने ऐसे दिखावा करता है जैसे वह आतंकवाद के खिलाफ सच में कार्रवाई कर रहा हो।

भारत आतंक से मुक्त वातावरण में सामान्य संबंध चाहता है

भारत ने कहा कि वह आतंक से मुक्त वातावरण में एक सामान्य संबंध चाहता है और आधे-अधूरे उपायों के आधार पर नहीं, जो वे कभी-कभी अंतरराष्ट्रीय समुदाय को धोखा देने के लिए वे करते रहते हैं।

हाफिज सईद और उसके 12 सहयोगियों के खिलाफ टेरर फंडिंग मामले में मुकदमा दर्ज

बता दें कि भारतीय विदेश मंत्रालय की ओर से बयान उस रिपोर्ट पर आया है, जिसमें कहा जा रहा है कि पाकिस्तान ने हाफिज सईद और उसके 12 सहयोगियों के खिलाफ टेरर फंडिंग मामले में मुकदमा दर्ज किया है। यह दावा पाकिस्तान की ओर से ऐसे समय किया गया है जब पाकिस्तान पर इसके लिए वैश्विक दबाव बढ़ रहा है कि वह भारत में भीषण हमले करने वाले आतंकवादी समूहों के खिलाफ कार्रवाई करे।

लटकी गिरफ्तारी की तलवार

गुरुवार को पाकिस्तान की पुलिस ने बताया कि हाफिज सईद और उसके 12 सहयोगी को जल्द ही गिरफ्तार किया जाएगा। बता दें कि पाकिस्तान की एजेंसियों ने मुम्बई हमले के सरगना तथा जमात उद दावा के प्रमुख हाफिज सईद और उसके 12 करीबियों के खिलाफ चैरिटी के जरिये धन इकट्ठा कर टेरर फंडिंग एवं आतंकवाद के वित्तपोषण के विभिन्न अपराधों के आरोप में मामला दर्ज किया है।

पाकिस्तान ने यह फैसला आतंकवादी समूहों और आतंकवाद की फंडिंग पर लगाम लगाने के लिये अंतरराष्ट्रीय दबाव के बीच लिया है। पाकिस्तान के पंजाब पुलिस के आतंकवाद विरोधी विभाग (सीटीडी) ने बुधवार को कहा कि उसने "आतंकवाद की फंडिंग" के सिलसिले में जमात-उद-दावा के 13 नेताओं के खिलाफ 23 प्राथमिकियां दर्ज की हैं।

सीटीडी ने एक बयान में कहा, "आतंकवाद की फंडिंग के खिलाफ जारी सीटीडी पंजाब की कार्रवाई में जमात-उद-दावा प्रमुख हाफिज सईद और अन्य नेताओं के खिलाफ मामले दर्ज किये गए हैं।" सीटीडी ने कहा कि जमात उद दावा, लश्कर ए तैयबा और एफआईएफ के मामलों की जांच जारी है। यह जांच आतंकवाद की फंडिंग के लिए धन जुटाने के उद्देश्य से ट्रस्टों का इस्तेमाल करने के बारे में है।

एजेंसी इनपुट

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से