Home देश सामान्य हामिद अंसारी का तंज, कुछ लोग टाइम मशीन से इतिहास में जाकर इसे बदलना चाहते हैं

हामिद अंसारी का तंज, कुछ लोग टाइम मशीन से इतिहास में जाकर इसे बदलना चाहते हैं

आउटलुक टीम - MAY 27 , 2018
हामिद अंसारी का तंज, कुछ लोग टाइम मशीन से इतिहास में जाकर इसे बदलना चाहते हैं
हामिद अंसारी का तंज, कुछ लोग टाइम मशीन से इतिहास में जाकर इसे बदलना चाहते हैं
File Photo
आउटलुक टीम

पिछले कई दिनों में आरएसएस और भाजपा पर इतिहास से छेड़छाड़ करने के आरोप लगते रहे हैं। विपक्ष और कई इतिहासकार इसे लेकर आपत्ति दर्ज करा चुके हैं। अब इस विवाद में भारत के पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी ने भी अपनी बात रखी है। उन्होंने अप्रत्यक्ष रूप से कहा है कि आज कुछ लोग ऐसी टाइम मशीन बना रहे हैं जिससे भूतकाल में जाकर इतिहास को दोबारा लिखा जा सके। उन्होंने यह भी कहा कि इन लोगों का यह आविष्कार सफल नहीं हो पाएगा।

हामिद अंसारी ने कहा, 'एच. जी. वेल्स ने जो 'द टाइम मशीन' नॉवेल लिखी थी, उसके पीछे आइडिया यह था कि टेक्नोलॉजी की मदद से आप भूतकाल में जाकर यह देख सकते हैं कि इतिहास में कब, कैसे और क्या हुआ था, लेकिन आज कुछ आविष्कारक ऐसी टाइम मशीन बनाने की कोशिश कर रहे हैं, ताकि इतिहास में जाकर इसे दोबारा लिखा जा सके। हालांकि उनकी यह कोशिश कतई सफल नहीं होगी।'

पूर्व उपराष्ट्रपति ने यह बात देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू पर आधारित एक किताब की लॉन्चिंग पर कही। किताब को वरिष्ठ कांग्रेस नेता ए. गोपन्ना ने एडिट किया है। किताब को रविवार दोपहर पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने लॉन्च किया। हामिद अंसारी ने इस मौके पर यह भी कहा कि इतिहास को पढ़ा जाना चाहिए। उससे सबक सीखने चाहिए, लेकिन उसे बदलने की कोशिश नहीं करनी चाहिए।

हामिद अंसारी के साथ केंद्र की मोदी सरकार के रिश्ते अच्छे नहीं रहे थे। गौहत्या के नाम पर हुई हत्याओं और लव जिहाद जैसे मुद्दों पर वे एनडीए सरकार की आलोचना करते रहे हैं। अपनी फेयरवेल स्पीच में भी उन्होंने सरकार की अप्रत्यक्ष रूप से आलोचना की थी। हाल ही में अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में जिन्ना की तस्वीर पर मचे बवाल पर भी उन्होंने बीजेपी सरकार पर निशाना साधा था।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से