Home देश सामान्य दिल्ली-यूपी में छापेमारी पर NIA का खुलासा, आतंकी हमले करने की थी योजना, बड़े नेता भी निशाने पर

दिल्ली-यूपी में छापेमारी पर NIA का खुलासा, आतंकी हमले करने की थी योजना, बड़े नेता भी निशाने पर

आउटलुक टीम - DEC 26 , 2018
दिल्ली-यूपी में छापेमारी पर बोली एनआईए, आतंकी हमले करने की थी योजना
ANI
दिल्ली और यूपी में ISIS के नए मॉड्यूल का खुलासा
ANI
आउटलुक टीम

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने बुधवार को उत्तर प्रदेश और दिल्ली में 16 जगहों पर तलाशी अभियान चलाया। एजेंसी को शक है कि आतंकी संगठन आईएसआईएस जैसा मॉड्यूल 'हरकत उल हर्ब ए इस्लाम' सक्रिय हो रहा है। एनआईए के आईजी आलोक मित्तल ने इस छापेमारी पर खुलासा करते हुए बताया कि पकड़े गए कथित आईएसआईएस मॉड्यूल के सदस्य कई जगहों पर सीरियल धमाके करने की साजिश रच रहे थे। वे फिदायन हमले की तैयारी करना चाहते थे। इनके निशाने पर कई राजनेता और बड़ी शख्सियतें थीं।

'मॉड्यूल के गैंगलीडर का नाम मुफ्ती सोहैल है, जो दिल्ली में रहता है'

इस मामले में एनआईए अधिकारी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कई चौंकाने वाले खुलासे किए हैं। उन्होंने बताया कि छापेमारी के बाद 16 लोगों से पूछताछ की गई, जिसके बाद 10 संदिग्धों को गिरफ्तार किया गया। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) द्वारा मारे गए छापों पर एनआई के आईजी आलोक मित्तल ने बताया, ‘मॉड्यूल के गैंगलीडर का नाम मुफ्ती सोहैल है, जो दिल्ली में रहता है और अमरोहा का मूल निवासी है, जहां वह एक मस्जिद में काम करता है’।

अभी और लोगों की गिरफ्तारी की संभावना- एनआईए

आलोक मित्तल ने कहा, इन दस संदिग्धों की गिरफ्तारियां दिल्ली के सीलमपुर, अमरोहा, मेरठ, लखनऊ और हापुड़ से हुई हैं। पूछताछ के बाद और भी लोगों की गिरफ्तारी की संभावना है। उन्होंने यह भी कहा कि एनआईए की छापेमारी में 120 अलॉर्म घड़ियां मिली हैं। इससे पता चलता है कि बड़ी संख्या में बम बनाना चाह रहे थे।

आतंकी हमले करने की थी योजना

एनआईए अधिकारी ने बताया कि इनकी तैयारियों का स्तर देखकर संकेत मिलता है कि उनका इरादा निकट भविष्य में रिमोट कंट्रोल या फिदायीन हमलों के जरिए विस्फोट करने का था। यह आईएसआईएस से प्रेरित नया मॉड्यूल है और वे एक विदेशी एजेंट से संपर्क में थे। पहचान होना फिलहाल शेष है।

'उनका निशाना राजनेता तथा अन्य अहम शख्सियतें थीं'

आईजी आलोक मित्तल ने बताया, ‘उनका निशाना राजनेता तथा अन्य अहम शख्सियतें और महत्वपूर्ण और सुरक्षा ठिकाने थे’। उन्होंने बताया कि छापेमारी में 7.5 लाख रुपये, 100 मोबाईल और 135 सिम कार्ड बरामद किए गए हैं। उन्होंने बताया कि कुछ ठिकानों पर तलाशी अब भी जारी है। 16 संदिग्धों से शुरुआती पूछताछ के बाद हमने 10 आरोपियों को गिरफ्तार करने का फैसला किया है।


यूपी और दिल्ली के 17 ठिकानों पर की गई छापेमारी

एनआईए के आईजी आलोक मित्तल ने बताया, ‘हमने उत्तर प्रदेश और दिल्ली में 17 ठिकानों पर तलाशी ली और यह मॉड्यूल सीरियल ब्लास्ट करने की एडवांस स्टेज में थे। तलाशियां दिल्ली के सीलमपुर तथा उत्तर प्रदेश के अमरोहा, हापुड़, मेरठ तथा लखनऊ में ली गईं। भारी मात्रा में विस्फोटक सामग्री, हथियार तथा गोला-बारूद बरामद हुआ है, जिनमें देसी रॉकेट लॉन्चर भी शामिल है।

जानकारी के अनुसार, दिल्ली के जाफराबाद, सीलमपुर और यूपी के अमरोहा में आईएसआईएस मॉड्यूल से जुड़े ठिकानों पर यह कार्रवाई की जा रही है। बताया जा रहा है कि सर्च ऑपरेशन में एनआईए के अलावा उत्तर प्रदेश एंटी टेरेरिज्म की टीम भी शामिल है।

दिल्ली और उत्तर प्रदेश के 16 ठिकानों पर छापेमारी

न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, ISIS के नए मॉड्यूल 'हरकत उल हर्ब ए इस्लाम' से जुड़े ठिकानों की जांच की जा रही है। इस मामले में अमरोहा से 10 संदिग्धों को हिरासत में लिया गया है। इनमें से एक के पास से एक पिस्टल और विस्फोटक सामग्री बरामद की गई है।

एनआईए प्रवक्ता ने कहा कि दिल्ली और उत्तर प्रदेश के 16 ठिकानों पर छापेमारी चल रही है। 'हरकत उल हर्ब इस्लाम' आईएसआईएस से जुड़ा हुआ है। हालांकि, छापेमारी अभी भी जारी है। उन्होंने यह भी कहा कि छापेमारी तड़के सुबह शुरू हुई।

तीन सगे भाईयों को किया गया गिरफ्तार

नोगावा सादात के गांव सैदपुर इम्मा निवासी तीन सगे भाइयों के आतंकी संगठन से जुड़ा होने के शक में हिरासत में लिया गया है। शहीद अहमद नगर कोतवाली क्षेत्र में धनोरा अड्डे पर वेल्डिंग की दुकान करता है। पास के ही मुहल्ला इस्लाम नगर में भी उसका मकान है जहां पर एटीएस और लोकल पुलिस शहीद के तीन बेटों अनीस, इदरीस और नफीस को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

पांच लोगों को किया गया गिरफ्तार

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, यूपी के पुलिस महानिरीक्षक असीम अरुण ने बताया कि आतंकी संगठन से संपर्क के सिलसिले में पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने बताया कि यूपी के अमरोहा के एक मदरसे से एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया। वहीं, अन्य चार लोगों को अलग अलग जगह से गिरफ्तार किया गया है।

इस ऑपरेशन से संबंध रखने वाले एक अन्य अधिकारी ने जानकारी दी कि सभी गिरफ्तार किए गए लोग आईएसआईएस के नए मॉड्यूल के सदस्य हैं। अधिकारियों ने गिरफ्तार लोगों के पास से विस्फोटक सामग्री मिलने की भी पुष्टि की है।

अलर्ट पर सुरक्षा एजेंसियां

गौरतलब है कि सुरक्षा एजेंसिया इन दिनों हाई अलर्ट पर है। पिछले सप्ताह दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिले में सुरक्षा बलों के साथ हुई मुठभेड़ में आतंकी जाकिर मूसा के एक करीबी समेत छह आतंकवादी मारे गए थे।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से