Home देश सामान्य वरिष्ठ पत्रकार विनोद दुआ का 67 साल की उम्र में निधन, बेटी मल्लिका दुआ ने की पुष्टि, कल होगा अंतिम संस्कार

वरिष्ठ पत्रकार विनोद दुआ का 67 साल की उम्र में निधन, बेटी मल्लिका दुआ ने की पुष्टि, कल होगा अंतिम संस्कार

आउटलुक टीम - DEC 04 , 2021
वरिष्ठ पत्रकार विनोद दुआ का 67 साल की उम्र में निधन, बेटी मल्लिका दुआ ने की पुष्टि, कल होगा अंतिम संस्कार
वरिष्ठ पत्रकार विनोद दुआ का 67 साल की उम्र में निधन, बेटी मल्लिका दुआ ने की पुष्टि, कल होगा अंतिम संस्कार
ANI
आउटलुक टीम

वरिष्ठ पत्रकार विनोद दुआ का का 67 वर्ष की उम्र में दिल्ली में निधन हो गया है। वे काफी समय से बीमार चल रहे थे। विनोद दुआ की बेटी मल्लिका दुआ ने इंस्टाग्राम पोस्ट के जरिए ये जानकारी दी। विनोद दुआ का अंतिम संस्कार कल लोधी श्मशान घाट में होगा। बता दें कि कुछ दिन पहले ही विनोद दुआ की मौत की अफवाह उड़ी थी, तब उनकी बेटी ने इनका खंडन किया था। मल्लिका की मां का निधन इसी साल कोरोना से हो गया था।

मल्लिका ने अपने पिता की एक तस्वीर साझा की और लिखा, हमारे निडर और असाधारण पिता, विनोद दुआ का निधन हो गया है। उन्होंने एक अद्वितीय जीवन जिया, दिल्ली की शरणार्थी कॉलोनियों से 42 वर्षों तक वह पत्रकारिता की उत्कृष्टता के शिखर तक बढ़ाते हुए हमेशा सच बोलते रहे। वह अब हमारी मां, उनकी प्यारी पत्नी चिन्ना के साथ स्वर्ग में हैं, जहां वे गाना, खाना बनाना, यात्रा करना एक-दूसरे के लिए जारी रखेंगे।

इस साल की शुरुआत में उन्हें कोरोना संक्रमण भी हुआ था, जब उन्होंने गहन देखभाल में कई दिन बिताए। तब दुआ को दिल्ली के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था। पिछले हफ्ते जब उन्हें पोस्ट कोरोनोवायरस जटिलताओं के कारण अस्पताल में भर्ती कराया गया था तो उनकी बेटी मल्लिका ने एक स्वास्थ्य अपडेट भी शेयर किया था।

विनोद दुआ 67 साल के थे. उनका जन्म नई दिल्ली में हुआ था। विनोद दुआ ने दूरदर्शन सहित कई संगठनों में कई वर्षों तक समाचार एंकर के रूप में काम किया। 1996 में वे पहले इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के पत्रकार थे, जिन्हें रामनाथ गोयनका अवार्ड से सम्मानित किया गया. उन्हें 2008 में पत्रकारिता के लिए पद्म श्री से भी सम्मानित किया गया था।

इस साल जून में, विनोद दुआ की पत्नी डॉ पद्मावती दुआ का भी कोरोनोवायरस जटिलताओं के कारण निधन हो गया। वह चिन्ना दुआ के नाम से मशहूर थीं। उस समय बेटी मल्लिका ने सोशल मीडिया पर इस खबर की पुष्टि करते हुए लिखा था, कल रात वह हमें छोड़कर चली गई। मेरा पूरा दिल। मेरा पूरा जीवन. एकमात्र भगवान जिसे मैं जानती हूं। मेरी अम्मा मुझे खेद है कि मैं तुम्हें बचा नहीं सकी। तुमने बहुत संघर्ष किया मां। मेरा अनमोल। मेरा मन. तुम मेरी पूरी जिंदगी हो।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से