Home » देश » सामान्य » महिला विरोधी अपराधों के लिए बनेंगे साइबर क्राइम रिपोर्ट‍िंग पोर्टल लैब:राजनाथ

महिला विरोधी अपराधों के लिए बनेंगे साइबर क्राइम रिपोर्ट‍िंग पोर्टल लैब:राजनाथ

FEB 10 , 2018

केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि महिला विरोधी अपराध के खिलाफ साइबर क्राइम रिपोर्ट‍िंग पोर्टल-लैब बनाए जाएंगे।


ऑल इंडिया साइंस कांफ्रेस में गृहमंत्री ने कहा कि साइबर अपराधों को रोकने के लिए फोरेंसिक क्षमताओं को बढ़ाने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि बच्चों और महिलाओं के खिलाफ अपराध रोकने के लिए लैबोट्री की स्थापना की जाएगी। उन्होंने इंटरनेट पर अश्लील चीजें साझा करने की बढ़ती घटनाओं पर चिंता जताते हुए कहा कि साइबर स्पेस पर कड़ाई से निगरानी करने और भारतीय कानूनों का उल्लंघन करने वाली वेबसाइटों को ब्लॉक करने के लिए एक प्रभावी प्रणाली बनाई जाएगी। इंटरनेट पर अपराधों की निगरानी के लिए गृह मंत्रालय के तहत एक साइबर पुलिस फोर्स का गठन किया जाएगा। सीआईएस के तहत एक भारतीय साइबर अपराध समन्वय केंद्र और साइबर पुलिस फोर्स का गठन किया जाएगा।

मालूम हो कि सीआईएस डिविजन का गठन गृह मंत्रालय के तहत 10 नवम्बर 2017 को किया गया था। सीआईएस में चार शाखाएं होंगी जिसमें मुख्य तौर पर सिक्युरिटी क्लीयरेंस, साइबर क्राइम प्रिवेंशन, साइबर सिक्युरिटी और इंफार्मेशन सिक्युरिटी विंग शामिल है। हर एक का नेतृत्व अवर सचिव स्तर के एक अधिकारी करेगा।


अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या
एपल स्टोर से

Copyright © 2016 by Outlook Hindi.