Home देश सामान्य राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर साधा निशाना, कहा- तू इधर उधर की न बात कर, ये बता कि काफ़िला क्यूं लुटा

राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर साधा निशाना, कहा- तू इधर उधर की न बात कर, ये बता कि काफ़िला क्यूं लुटा

आउटलुक टीम - JUN 30 , 2020
राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर साधा निशाना, कहा- तू इधर उधर की न बात कर, ये बता कि काफ़िला क्यूं लुटा
राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर साधा निशाना, कहा- तू इधर उधर की न बात कर, ये बता कि काफ़िला क्यूं लुटा
FILE PHOTO
आउटलुक टीम

प्रधानमंत्री नरेंद्र ने मंगलवार को अपने संबोधन में देशवासियों से कोरोना वायरस की मौजूदा स्थिति और अनलॉक-2 आदि मुद्दों पर बात की। लेकिन चीन के साथ सीमा पर जारी विवाद को लेकर कुछ नहीं कहा। अब इसी को लेकर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने निशाना साधा है। उन्होंने ट्वीट किया,''तू इधर उधर की न बात कर, ये बता कि क़ाफ़िला कैसे लुटा, मुझे रहज़नों से गिला तो है, पर तेरी रहबरी का सवाल है।''

पीएम मोदी के संबोधन से पहले भी राहुल गांधी ने एक ट्वीट कर पूछा था, "पूरा देश जानता है कि चीन ने भारत की पवित्र जमीन छीनी है। चीन लद्दाख में चार जगहों पर अंदर बैठा हुआ है। मोदी जी, देश को बताइए चीन की फौज को हिंदुस्तान से आप कब निकालेंगे और कैसे।''

चीन का जिक्र करने से डरते हैंः कांग्रेस

चीन का जिक्र न होने पर कांग्रेस ने कहा कि पीएम राष्ट्रीय संबोधन में इसका जिक्र करने से भी डरते हैं। कांग्रेस ने अपने ट्विटर हैंडल पर एक तस्वीर भी लगाई जिसमें चीन के बारे में लिखा गया है। तस्वीर पर लिखा है, चीन भारत की सीमा में 423 मीटर तक घुसपैठ कर गया। कांग्रेस के मुताबिक, 25 जून तक भारतीय सीमा में चीन के 16 टेंट और टरपॉलिन हैं। चीन का एक बड़ा शेल्टर है, साथ ही तकरीबन 14 गाड़ियां हैं। कांग्रेस ने पूछा है कि क्या प्रधानमंत्री इसे नकार सकते हैं? कांग्रेस ने यह भी कहा कि भारत को ऐसे नेता की जरूरत है जो असफलता को स्वीकार करे और उसमें सुधार की गुंजाइश बची हो। ऐसे नेता की जरूरत नहीं है जो परेशानियों को दरकिनार करे और उस पर बात करने से बचे।

नियमोंं का करना होगा पालनः पीएम

पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि कोरोना वैश्विक महामारी के खिलाफ लड़ते हुए अब हम अनलॉक -2 में प्रवेश कर रहे हैं और हम उस मौसम में भी प्रवेश कर रहे हैं, जहां सर्दी-जुखाम, खांसी-बुखार के मामले बढ़ जाते हैं। अगर कोरोना से होने वाली मृत्यु दर को देखें तो दुनिया के अनेक देशों की तुलना में भारत संभली हुई स्थिति में है। समय पर किए गए लॉकडाउन और अन्य फैसलों ने भारत में लाखों लोगों का जीवन बचाया है। पीएम मोदी ने कहा कि इस समय जो लापरवाही कर रहे हैं वो ये नहीं समझ रहे हैं कि वो कोरोना के खिलाफ लड़ाई को कमजोर कर रहे हैं, ऐसे लोगों को लापरवाही करने से रोकना होगा और नियमों का पालन कराना होगा।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से