Home देश सामान्य ओल्गा तोकार्चुक को 2018 और पीटर हैंडके को 2019 के लिए साहित्य का नोबेल पुरस्कार

ओल्गा तोकार्चुक को 2018 और पीटर हैंडके को 2019 के लिए साहित्य का नोबेल पुरस्कार

आउटलुक टीम - OCT 10 , 2019
ओल्गा तोकार्चुक को 2018 और पीटर हैंडके को 2019 के लिए साहित्य का नोबेल पुरस्कार
ओल्गा तोकार्चुक को 2018 और पीटर हैंडके को 2019 के लिए साहित्य का नोबेल पुरस्कार
file photo
आउटलुक टीम

पोलिश लेखिका ओल्गा तोकार्चुक  को वर्ष 2018 और ऑस्ट्रियाई लेखक पीटर हैंडके को 2019 के लिए साहित्य के नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। पुरस्कार के लिए 8 नामों की सूची तैयार की गई थी। इनमें से इन दो लोगों को चुना गया। पुरस्कार स्टॉकहोम में 10 दिसंबर को दिया जाएगा। स्वीडन की राजधानी स्टॉकहोम में नोबेल फाउंडेशन इसकी घोषणा की गई। 

ओल्गा तोकार्चुक को सीमाओं के आर-पार जीवन के एक रूप को दर्शाने की काल्पनिकता के लिए यह सम्मान मिलेगा। वहीं, पीटर हैंडके को मानवीय अनुभव की परिधि और विशिष्टता को भाषाई सरलता के जरिए खोजने के लिए इस पुरस्कार के लिए चुना गया है।

तोकार्चुक ने एक दर्जन से अधिक किताबें लिखी हैं और कई सम्मान जीते हैं, जिसमें पिछले साल ब्रिटेन का मैन बुकर इंटरनेशनल पुरस्कार और पोलैंड का सबसे प्रतिष्ठित नाइके साहित्य पुरस्कार शामिल है। वहीं, हैंडके 1966 में अपने उपन्यास "द हॉर्नेट्स" और "ऑफेंडिंग द ऑडियंस" के साथ साहित्य के क्षेत्र में उभरे थे।

रसायन, भौतिकी, चिकित्सा में इन्हें मिलेगा पुरस्कार

इससे पहले, बुधवार को लिथियम-आयन बैटरी का विकास करने के लिए कैमिस्ट्री का नोबेल पुरस्कार अमेरिका के जॉन बी. गुडइनफ,  इंग्लैंड के एम. स्टैनली विटिंघम और जापान के अकीरा योशिनो (Akira Yoshino) को संयुक्त रूप से दिया गया था। मंगलवार को भौतिकी  का नोबेल पुरस्कार घोषित किया गया था, जो कनाडाई-अमेरिकी एस्ट्रो-फिज़िसिस्ट जेम्स पीबल्स, स्विस एस्ट्रो-फिजिसिस्ट मिशेल जी.ई. मेयर और स्विस एस्ट्रोनोमर डिडिएर क्वेलोज को दिया गया था। सोमवार को अमेरिका के विलियम जी. कायलिन जूनियर  और ब्रिटेन के ग्रेग एल. सेमेन्जा और सर पीटर जे. रैटक्लिफ को चिकित्सा के क्षेत्र में नोबेल पुरस्कार की घोषणा की गई थी

इन क्षेत्रों में मिलता है नोबेल पुरस्कार

रॉयल स्वीडिश अकैडमी ऑफ साइंसेज भौतिकी, रसायन और अर्थशास्त्र में नोबेल पुरस्कार विजेताओं का चयन करती है। कैरोलिन इंस्टीट्यूट, स्टॉकहोम, स्वीडन में नोबेल असेंबली मेडिसिन के क्षेत्र में विजेताओं के नाम की घोषणा करती है। साहित्य के क्षेत्र में नोबेल पुरस्कार स्वीडिश अकादमी स्टॉकहोम, स्वीडन द्वारा दिया जाता है और शांति का नोबेल पुरस्कार नॉर्वे की संसद द्वारा चुनी गई समिति देती है।

क्यों शुरु किया था पुरस्कार

अल्फ्रेड नोबेल का जन्म स्वीडन में 21 अक्टूबर 1833 को हुआ था। अल्फ्रेड रसायनशात्री और इंजीनियर थे। 10 दिसंबर 1896 को इटली के सौन रेमो में अल्फ्रेड नोबेल का निधन हुआ। युद्ध में भारी तबाही मचाने वाले अपने अविष्कारों को लेकर अल्फ्रेड नोबेल भारी पश्चाताप था। इसलिए उन्होंने अपनी पूरी संपत्ति का इस्तेमाल मानव हित के लिए किए गए आविष्कारों में करने का फैसला लिया और नोबेल फाउंडेशन की स्थापना की। उन्होंने अपनी वसीयत में हर साल भौतिकी, रसायन, चिकित्सा, साहित्य और शांति के क्षेत्रों में उल्लेखनीय कार्य करने वालों को पुरस्कार देने की घोषणा की।

नोबेल पुरस्कार में क्या मिलता है

नोबेल पुरस्कार के हर विजेता को करीब साढ़े चार करोड़ रुपए की राशि दी जाती है। इसके साथ 23 कैरेट सोने से बना 200 ग्राम का पदक और प्रशस्ति पत्र भी दिया जाता है। पदक के एक ओर नोबेल पुरस्कार के जनक अल्फ्रेड नोबेल की छवि, उनके जन्म तथा मृत्यु की तारीख लिखी होती है। पदक की दूसरी तरफ यूनानी देवी आइसिस का चित्र, रॉयल एकेडमी ऑफ साइंस स्टॉकहोम तथा पुरस्कार पाने वाले व्यक्ति की जानकारी होती है।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से