Home » देश » सामान्य » फोर्टिस मामला: मृतक बच्ची के पिता ने कहा, अस्‍पताल ने की खरीदने की कोशिश

फोर्टिस मामला: मृतक बच्ची के पिता ने कहा, अस्‍पताल ने की खरीदने की कोशिश

DEC 07 , 2017

गुरुग्राम के फोर्टिस अस्पताल में डेंगू से मौत का शिकार बनी सात साल की बच्ची के पिता जयंत सिंह ने गुरुवार को अस्पताल को लेकर नया खुलासा किया है। जयंत ने कहा कि उन्‍हें अस्‍पताल के खिलाफ चल रहे अभियान को खत्‍म करने के लिए पैसे देने की पेशकश की थी। जयंत सिंह ने ये खुलासा तब किया जब हरियाणा सरकार की जांच रिपोर्ट में अस्प‍ताल की लापरवाही, अनैतिक और गैरकानूनी कृत्यों की ओर इशारा किया।

जयंत सिंह ने न्यूज़ एजेंसी एएनआई को बताया कि 'फोर्टिस के सीनियर लोग मुझसे मिले और मुझे 10,37,889 रुपए के चेक का ऑफर दिया। उन्होंने कहा कि वो मुझे इसके ऊपर और 25 लाख भी देंगे।' उन्होंने ये भी बताया कि अस्पताल अपने खिलाफ चलाए जा रहे कैंपेन को खत्म करने और कोई कानूनी कदम न उठाने के लिए एक लीगल एग्रिमेंट साइन करने को भी बोला।

इससे पहले बुधवार को अनिल विज ने अर्बन डेवलपमेंट अथॉरिटी से अस्पताल का लीज कैंसल करने को कहा था। हरियाणा सरकार अस्पताल के खिलाफ एक एफआईआर भी दर्ज कराने वाली है। उन्होंने बताया, 'हम फोर्टिस के आपराधिक लापरवाही के खिलाफ एक एफआईआर दर्ज कराने वाले हैं। हम इंडियन मेडिकल एसोसिएशन को भी लाइसेंस कैंसल करने के लिए लिखेंगे। इसके अलावा, हमने अस्पताल के ब्लड बैंक को भी कैंसल करने के लिए एक नोटिस दिया है।'


क्या है मामला

दिल्ली निवासी आद्या सिंह को 27 अगस्त को तेज बुखार आया। पिता जयंत सिंह उसे द्वारका सेक्टर-12 के रॉकलैंड अस्पताल में लेकर गए तो वहां पता चला कि आद्या को टाइप-4 का डेंगू है। रॉकलैंड के डॉक्टरों ने उसे वहां से शिफ्ट करने की सलाह दी। जयंत उसी दिन आद्या को गुरुग्राम के फोर्टिस अस्पताल लेकर गए। वहां उसे वेंटिलेटर पर रखा गया। 14 सितंबर को बच्ची को फोर्टिस से रॉकलैंड में शिफ्ट किया गया, तो उसे बिना उपकरणों वाली एम्बुलेंस में भेजा गया। उसी दौरान आद्या की मौत हो गई।


अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या
एपल स्टोर से

Copyright © 2016 by Outlook Hindi.